amit_shah

अमित शाह के खिलाफ कांग्रेस पहुंची चुनाव आयोग, अयोग्य ठहराने की मांग

लोकसभा 2019,

ले पंगा न्यूज डेस्क अशोक योगी। गांधीनगर लोकसभा क्षेत्र उम्मीदवार व भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पर अपने चुनावी हलफनामे में सही जानकारी छिपाने का आरोप लगाते हुए कांग्रेस ने चुनाव आयोग से शिकायत की है। कांग्रेस ने गांधीनगर लोकसभा क्षेत्र से उनको चुनाव लड़ने के लिए अयोग्य ठहराने की मांग की है। कांग्रेस की ओर से की गई शिकायत में कहा गया है कि अमित शाह ने 2 जगहों पर गलत जानकारी भरी है। कांग्रेस के गांधीनगर उम्मीदवार सीजे चावड़ा ने अमित शाह को अयोग्य घोषित करने मांग की है।

अमित शाह ने अपने बेटे के कर्ज की नहीं दी जानकारी

कांग्रेस ने अपनी शिकायत में आरोप लगाते हुए चुनाव आयोग से कहा है कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने अपने चुनावी हलफनामे में सही जानकारी नहीं दी है,  लिहाजा उन्हें चुनाव लड़ने के लिए अयोग्य घोषित किया जाए। शिकायत के अनुसार अमित शाह ने गांधीनगर में एक प्लॉट के बारे में और दूसरा अपने बेटे के कर्ज के बारे में सही जानकारी नहीं दी है। अमित शाह के बेटे जय उनके गारंटर भी हैं। कागजातों की जांच के दौरान सीजे चावड़ा ने शुक्रवार को शाह की उम्मीदवारी पर सवाल उठाते हुए दावा किया जब शाह राज्यसभा का चुनाव लड़ रहे थे तब उन्होंने घोषित किया था कि उन्होंने अपने बेटे जय शाह की कंपनी के लिए अपनी संपत्ति गिरवी रखकर 25 करोड़ रुपये का कर्जा लिया था, जिसका जिक्र हलफनामे में नहीं किया है। इसके बाद कांग्रेस पर हमला करते हुए बीजेपी के प्रवक्ता भरत पांड्या ने आरोप लगाया कि विपक्षी पार्टी और उसके उम्मीदवार अमित शाह की छवि खराब करने की कोशिश कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि कर्ज चुका दिया गया है. गिरवी रखी संपत्ति को वापस ले लिया गया है। पांड्या ने कहा कि कांग्रेस जांच किए बिन आपत्ति जाहिर कर दी।

गौरतलब है कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह पहली बार गांधीनगर लोकसभा सीट से लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं।  गुजरात की 26 सीटों पर 23 अप्रैल को चुनाव होने हैं जहां कांग्रेस ने अमित शाह के खिलाफ अपने विधायक सीजे चावड़ा को चुनाव मैदान में उतारा है।

यह है अमित शाह का हलफनामा

अमित शाह ने अपने हलफनामे में बताया कि उनकी कमाई का जरिया राज्यसभा के सांसद के तौर पर मिलने वाली सैलरी, किराए पर दी गई संपत्ति, खेती की आय और शेयर बाजार में निवेश है। बीजेपी अध्यक्ष की पत्नी एक गृहिणी हैं। उनकी कमाई का जरिया खेती, शेयर बाजार में निवेश और किराये पर दी गई संपत्ति है। इस हलफनामे से पता चलता है कि अमित शाह की संपत्ति पिछले सात साल में तीन गुना बढ़ी है।

2016-17 में राज्यसभा के सांसद के तौर पर नामाकंन दाखिल करते वक्त उन्होंने अपनी सालाना आय जहां 43,68,450 रुपये और पत्नी सोनल शाह की आय 1,05,84,450 रुपये दिखाई थी। 2017-18 में अमित शाह की कमाई बढ़कर 53,90,970 रुपये हो गई, जबकि उनकी पत्नी की कमाई 2,30,82,360 रुपये बढ़ गई।

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के हलफनामे के मुताबिक उन्होंने शेयर बाजार में भी अच्छा खासा पैसा निवेश किया है। उन्होंने शेयर बाजार में 17.59 करोड़ रुपये निवेश किए हैं, जबकि उनकी पत्नी सोनल शाह का निवेश 4.36 करोड़ रुपये है। अमित शाह के पास 35 लाख रुपये के आभूषण हैं। उनके पास 7 कैरेट के डायमंड और 25 किलो चांदी है। 30 लाख रुपये की ज्वैलरी उन्हे विरासत में मिली है। वहीं उनकी पत्नी के पास 63 लाख रुपये की ज्वैलरी है. उनके पास 63 कैरेट के डायमंड हैं। उन्होंने अपने हलफनामे में लिखा कि उनके पास 20,633 रुपये नकद हैं, जबकि उनकी पत्नी के पास 72,578 रुपये नकद हैं। वहीं 18,89,710 रुपये बैंक में जमा है। अमित शाह को विरासत में मिली संपत्ति की कीमत आज 14,97,92,563 रुपये हैं, जबकि खुद से बनाई गई संपत्ति की कीमत 3,26,53,661 रुपये है. पत्नी के जरिए बनाई संपत्ति की कीमत 5,27,38,692 रुपये है।

Tag In

#election 2019 election #general election 2019 #lok sabha chunav 2019 #lok sabha election 2019 #loksabh-2019 #loksabha-chunav #loksabhachunav2019 #pm #आम चुनाव 2019 #चुनाव आयोग bjp congress election election-commission लोकसभा चुनाव 2019

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *