woman gang-raped in alwar

अलवर की शर्मसार घटना के पांच आरोपी गिरफ्तार, राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने प्रदेश सरकार को दिया नोटिस

न्यूज़ गैलरी,

ले पंगा न्यूज डेस्क, अलवर के थानागाजी की इस घटना ने अलवर को एक बार फिर शर्मसार किया है। यह घटना अलवर जिले को ही नहीं है बल्कि पूरे राजस्थान को शर्मसार करने वाली है। देशभर में रोज मानवता को शर्मसार कर देने वाली खबरे सामने आती है। लेकिन ऐसा नहीं हुआ जोकि राजस्थान के अलवर जिले की थानागाजी तहसील में हुआ है। अपने पति के साथ जा रही महिला के साथ पांच युवकों ने पति के सामने ही गैंगरेप किया। इतना ही नहीं आरोपियों ने घटना का वीडियो भी बना लिया और बाद में उसे वायरल कर दिया। वहीं घटना के बाद से पीड़ित परिवार सदमे में है। हैरानी की बात ये है कि पुलिस ने भी इस मामले में कुछ नहीं किया और कई दिनों तक मामला दबाए रखा। घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद पुलिस कुछ हरकत में आयी है, लेकिन 11 दिन बाद पुलिस ने  सरकार की ओर से सख्त आदेश के बाद पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। चुनावों के बीच गैंगरेप के इस मामले ने पूरे राज्य को हिला रखा है।गैंगरेप मामले का राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने संज्ञान लेते हुए प्रदेश सरकार को नोटिस जारी किया है।

आरोपियों को किया मजिस्ट्रेट के सामने पेश

पुलिस ने बुधवार देर रात तीन और आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। इसके साथ ही अब तक पुलिस ने पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं दूसरी ओर मामले में मंगलवार को गिरफ्तार किए गए दो आरोपियों को बुधवार को मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया। यहां से एक को न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया। वहीं, दूसरे को पुलिस रिमांड पर सौंपा है। देर रात हंसराज को मथुरा से और महेश को शाहपुरा से गिरफ्तार कर लिया गया। दरसअल, आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस ने 14 टीमें लगाई थी

डीएसपी (ग्रामीण) जगमोहन शर्मा ने बताया कि थानागाजी मामले में आरोपी अशोक गुर्जर पुत्र बाबूलाल गुर्जर निवासी भड़ाना की वाल (नारायणपुर) को पुलिस ने मंगलवार देर रात सीराबास गांव के जंगलों से गिरफ्तार कर लिया। वह अपने रिश्तेदार के घर में छिपा था। वहीं, प्रकरण में मंगलवार को गिरफ्तार किए गए गैंगरेप के आरोपी इंद्राज गुर्जर पुत्र धर्मा गुर्जर निवासी प्रागपुरा-जयपुर और घटना का वीडियो वायरल करने वाले मुकेश पुत्र श्रीराम निवासी कालाखोरा-थानागाजी को बुधवार को अलवर में एससी/एसटी कोर्ट के न्यायाधीश बृजेश शर्मा के सामने पेश किया गया। न्यायाधीश ने आरोपी इंद्राज गुर्जर को जेल और मुकेश गुर्जर को 13 मई तक पुलिस रिमांड पर भेज दिया।

थानागाजी एसएचओ सरदार सिंह को किया निलंबित

इस मामले में प्रशासन की नींद तब टूटी जब सरकार ने पुलिस की लापरवाही मानते हुए थानागाजी एसएचओ सरदार सिंह को निलंबित कर दिया और चार पुलिस कर्मियों को लाइन हाजिर किया है। साथ ही एसपी राजीव पचार को एपीओ कर दिया।

ये था मामला

गौरतलब है कि पीड़िता ने दो मई को दर्ज रिपोर्ट में बताया है कि वो 26 अप्रैल को दोपहर तीन बजे पति के साथ बाइक से गांव लालवाडी से तालवृक्ष जा रही थी। थानागाजी-अलवर बाईपास रोड़ पर दुहार चौगान वाले रास्ते से कुछ दूरी पर उनकी बाइक के सामने 5 युवकों मे अपनी दो बाइक लगा दी और रोक लिया। युवक महिला और उसके पति को जबरन रेत के बड़े टीलों की तरफ ले गए। वहां उसके पति से पहले मारपीट की, फिर बंधक बना लिया। बाद में पांचों युवकों ने महिला से सामूहिक दुष्कर्म किया। युवकों की उम्र 20-25 साल थी।

Tag In

# Crime police rajasthan #alwar #alwar video #alwar viral video #crime #gang-raped #lepannga #lepannga news #lepannga news hindi #thanagazi #video alwar viral #woman gang-raped #woman gang-raped in alwar alwar viral gang-raped in alwar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *