balak and jitener

अलवर लोकसभा सीट पर इस बार खूशबू व धूआं के बीच होगी धूआंधार टक्कर

लोकसभा 2019,

लेपंगा न्यूज डेस्क, अशोक योगी। लोकसभा चुनाव 2019 के लिए कांग्रेस पार्टी ने राजस्थान की लोकसभा सीटों पर प्रत्याशियों की घोषणा कर दी है। इस सूची में कांग्रेस ने 19 उम्मीदवारों के नाम की घोषणा कर दी है। अलवर लोकसभा सीट से कांग्रेस ने भंवर जितेन्द्र सिंह को प्रत्याशी बनाया है। भंवर जितेन्द्र सिंह अलवर लोकसभा सीट से सांसद व पूर्व केन्द्रीय मंत्री रह चुके हैं। वही बीजेपी ने पुर्व सांसद चांदनाथ के शिष्य और मस्तनाथ मठ के महंत बालकनाथ को प्रत्याशी घोषित की है। अलवर लोकसभा सीट पर इस में चुनाव रोचक मुकाबला होने वाला है। क्योंकि इस सीट पर इस बार के लोकसभा चुनाव में एक तरफ धूणे की धूआं है तो दूसरी तरफ महल की खुशबू अब देखना यह है कि जनता किसे स्वीकारती है और किसे नकारती है।

अलवर लोकसभा सीट से पहले भी सांसद रहे चुके है जितेन्द्र सिंह

अलवर लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी 48 वर्षीय जितेन्द्र सिंह दो बार विधायक और एक बार सांसद रह चुके हैं। कांग्रेस शासनकाल में सिंह केन्द्रीय राज्य मंत्री भी रहे। सिंह 1998 में अलवर से विधानसभा का कांग्रेस से पहला चुनाव जीते। 2003 में दूसरी बार विधानसभा का अलवर से चुनाव कांग्रेस से जीते। वर्ष 2007 में एआईसीसी के सचिव बने। 2009 में लोकसभा के चुनाव में अलवर से कांग्रेस से सांसद बने। 2011 में पहली बार केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री इसी प्रकार 2012 में इन्हें गृह रक्षा राज्य मंत्री व युवा मामलात और खेल का स्वतंत्र प्रभार का मंत्री बनाया गया। वर्ष 2014 में लोकसभा चुनाव अलवर से हार गए।

महंत बालक नाथ पहली बार लड़ रहे चुनाव

पूर्व सांसद व महंत चांदनाथ के शिष्य बालक नाथ लोकसभा चुनाव में पहली बार चुनाव लडने जा रहे है। वो मंहत चांदनाथ के पंचतत्व में विलीन होने के बाद बालकनाथ राजनैतिक में सक्रिय हुए थे।

महंत बालकनाथ जी का जन्म अलवर जिले में बहरोड़ तहसील के कोहराणा गांव में 1986 में हुआ था। महंत बालकनाथ ने 12 वर्ष की आयु में इनके पारिवारिक सदस्य बाबा मस्तनाथ की मन्नत स्वरूप इन्हें नाथ संप्रदाय में दीक्षित करने के लिए समर्पित कर गए थे और तभी से महंत बालकनाथ पूर्व सांसद व महंत चांदनाथ शिष्य रूप सेवा की है। बाबा बालकनाथ ने अस्थल बोहर स्थित बाबा मस्तनाथ स्कूल में ही शिक्षा ग्रहण की और नौंवी तक शिक्षा लेने के बाद भक्ति में लीन हो गए।

Tag In

# सांसद चांदनाथ #loksabh-2019 #loksabha-chunav #loksabha-saabha-chunav #loksabhachunav #अलवर लोकसभा #एआईसीसी #जितेन्द्र सिंह #नरेन्द्रमोदी #पीएम मोदी #भंवर जितेन्द्र सिंह #मस्तनाथ मठ #मंहत चांदनाथ loksabha कांग्रेस बीजेपी लोकसभा चुनाव 2019

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *