CHANAV AAYOG lokshabh

आंध्र प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, ओडिशा और सिक्किम में लोस के साथ विस चुनाव भी

लोकसभा 2019,

ले पंगा न्यूज़ डेस्क, तीर्थ राज । भारतीय निर्वाचन आयोग ने रविवार को प्रेस वार्ता आयोजित कर देश में लोकसभा चुनाव की घोषणा कर दी है, जिसके बाद आचार संहिता लागू हो गई है। 11 अप्रैल से 19 मई तक 7 चरणों में लोकसभा चुनाव संपन्न होंगे। इसके अलावा लोकसभा चुनावों के साथ ही 4 राज्यों आंध्र प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, ओडिशा और सिक्किम में विधानसभा चुनाव भी संपन्न होंगे। वहीं सुरक्षा कारणों के चलते निर्वाचन विभाग ने जम्मू कश्मीर में विधानसभा चुनाव फिलहाल नहीं करवाने का निर्णय लिया है।

लोकसभा व विधानसभा चुनाव के मतदान और मतगणना होगी साथ

रविवार को संवाददाता सम्मेलन में मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा चुनाव कार्यक्रम घोषित करते हुए बताया कि लोकसभा चुनाव में 7 चरणों के मतदान के दौरान पहले चरण में 11 अप्रैल को आंध्र प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश और सिक्कम में लोकसभा सीटों के लिये होने वाले मतदान के साथ ही इन राज्यों की विधानसभा सीटों के लिए भी मतदान होगा। उन्होंने बताया कि ओडिशा में लोकसभा चुनाव के लिए चार चरण में होने वाले मतदान के दिन ही विधानसभा सीटों के लिए भी मतदान होगा. इसके तहत राज्य में 11, 18, 23 और 29 अप्रैल को लोकसभा सीटों के साथ ही विधानसभा सीटों के लिये भी मतदान होगा। वहीं इन राज्यों में विधानसभा चुनाव के लिए मतगणना भी लोकसभा चुनाव की मतगणना के साथ 23 मई को ही होने वाली है।

जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा के चलते टाले विधानसभा चुनाव

प्रेस वार्ता में मुख्य चुनाव आयुक्त अरोड़ा ने स्पष्ट किया कि जम्मू कश्मीर में विधानसभा चुनाव, लोकसभा चुनाव के साथ नहीं होंगे, जबकि राज्य में लोकसभा सीटों के लिए पांच चरण में मतदान होगा। गौरतलब है कि पिछले साल नवंबर में जम्मू कश्मीर विधानसभा भंग किए जाने के बाद मई से पहले राज्य में चुनाव कराना अनिवार्य है। अब निर्वाचन आयोग ने जम्मू कश्मीर में सुरक्षा संबंधी जटिल हालात को देखते हुए राज्य में फिलहाल लोकसभा सीटों पर ही चुनाव करवाने का निर्णय लिया है। इसके अलावा उन्होंने कहा कि आयोग ने जम्मू कश्मीर में लोकसभा चुनाव के साथ ही विधानसभा चुनाव कराने के लिए पर्याप्त मात्रा में केन्द्रीय सुरक्षा बलों की उपलब्धता नहीं हो पाने के कारण राज्य में सिर्फ लोकसभा चुनाव कार्य्रकम ही घोषित करने का फैसला लिया गया है। वहीं राज्य में सुरक्षा हालात की संवेदनशीलता का हवाला देते हुए अरोड़ा ने कहा कि अनंतनाग लोकसभा सीट पर तीन चरणों में मतदान कराने का निर्णय लिया है।

उमर अब्दुला का मोदी सरकार पर कसा तंज, पहली बार हो रही विस चुनाव में देरी

नेशनल कांफ्रेंस नेता उमर अब्दुल्ला ने जम्मू कश्मीर में विधानसभा चुनाव नहीं कराये जाने के के लिये मोदी सरकार की निंदा की। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ‘मजबूत नेतृत्व’ पर तंज कसते हुए ट्वीट कर कहा, ‘राज्य में 1996 के विधानसभा चुनाव के बाद पहली बार समय से विधानसभा चुनाव नहीं हो रहे हैं।’ गौरतलब है कि जम्मू कश्मीर में विधानसभा का छह साल का कार्यकाल 16 मार्च 2021 तक निर्धारित था, लेकिन पिछले साल राज्य में सत्तारूढ़ पीडीपी-भाजपा गठबंधन टूटने के कारण विधानसभा भंग करनी पड़ी थी। संवैधानिक प्रावधानों के अनुसार, जम्मू कश्मीर को छोड़कर अन्य सभी राज्यों की विधानसभा का कार्यकाल पांच वर्ष होता है।

Tag In

#loksabh-2019 #loksabha-chunav #loksabhachunav2019 #आंध्र प्रदेश #सिक्किम loksabha loksabha election loksabha session loksabha-2019 अरुणाचल प्रदेश ओडिशा सिक्किम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *