आईबीपीटी के हवलदार की धमकी पर कमलनाथ ने दिया आश्वासन

न्यूज़ गैलरी,

ले पंगा न्यूज डेस्क, चंदना पुरोहित। मध्य प्रदेश के जल पर्यटन हनुवंंतिया द्वीप क्षेत्र स्थल पर मारपीट हुई। आईपीबीटी का हवलदार अमित सिंह वहाँ अपने परिवार के साथ घूमने गया था। उनके साथ बच्चे भी थे। बच्चो के लिए दूध और खाने की चीजें अंदर ले जाने की बात पर ही यह झगड़ा बढ़ा था। पर्यटन स्थल पर खाने का सामान अंदर ले जाने की अनुमति नहीं थी। इसी बात पर विवाद बहुत बढ़ गया और मारपीट तक पहुँच गया। इस पूरी घटना में हवलदार के भाई की आँखे 80% ख़राब हो गई हैं ऐसा बताया जा रहा है।

इस पूरी घटना के बाद हवलदार का कहना है की पुलिस ने उसकी पहले तो एफआईआर दर्ज नहीं की। जब एफआईआर दर्ज की गई तो उसमे आईपीसी की धारा जिसमे सामान्य मारपीट, अपमानजनक व्यवहार, आपराधिक धमकी जैसे धाराओं पर केस दर्ज किया गया। जब की गंभीर चोट, हत्या की कोशिश जैसी धाराएं लगनी चाहिए थी। हवलदार के भाई को अस्पताल ले जाया गया है।

हवलदार ने सोशल मीडिया पर धमकी दी है की दुसरा पाम सिंह तोमर पैदा हो सकता है। इस धमकी को मध्य प्रदेश के मुख्य मंत्री कमलनाथ ने गंभीरता से लिया है और मामले की जांच के आदेश दिए हैं। कमलनाथ ने अमित सिंह को आश्वासन दिया है की उनकी सुरक्षा सरकार का कर्तव्य है वह चिंता ना करे। फेसबुक पोस्ट लिखने वाले शख्स जम्मू में भारत तिब्बत सीमा पुलिस में पदस्ठ हैं। उन्होंने फेसबुक पर पोस्ट कर लिखा है की, वह परिजनों के साथ 16 अगस्त को इंदिरा सागर बांध के पास एमपी टूरिस्म के जल पर्यटन स्थल हनुवंतिया द्वीप पर घूमने गए थे। वहाँ उनका वहां के निजी सुरक्षा गार्ड के साथ विवाद हो गया। यह विवाद एक साधारण सी बात पर था जिसमें गार्ड ने छोटे बच्चों के लिए दूध अंदर ले जाने की अनुमति नहीं दी थी। अमित सिंह का कहना है की इस बात पर वहाँ के गार्ड चरण सिंह गौड़ तथा अन्य गार्ड ने उनके परिवार पर ईंट, लाठी और बियर की बोतलें फेकी। इस सारी घटना के बीच हमले में उनके छोटे भाई की 80 प्रतिशत आंखों की रोशनी चली गई।

Tag In

#आईबीपीटी #मध्य_प्रदेश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *