AARUN

इन नेताओं को मंत्रिमंडल में नहीं दी जगह, पिछले सरकार में रहे थे मंत्री

राजनीति,

ले पंगा न्यूज डेस्क, अशोक योगी। सुषमा स्वराज के मंत्रिमंडल में शामिल नहीं होने का कारण अभी तक सामने नहीं है, लेकिन बताया जा रहा है कि उनकी स्वास्थ्य खराब चल रहा है। सुषमा मोदी सरकार के पूर्ववर्ती मंत्रिमंडल में विदेश मंत्री थीं और इस बार उन्होंने लोकसभा का चुनाव नहीं लड़ा था। सुषमा ने कहा था कि मेरा स्वास्थ्य लोकसभा चुनाव लड़ने और प्रचार करने की इजाजत नहीं देता है।

गौरतलब है कि सुषमा स्वराज विदेश मंत्री और प्रवासी भारतीयों के बीच अपने कामकाज की वजह से काफी लोकप्रिय रही थीं। इसके साथ ही एक ट्वीट मात्र पर कई लोगों की मदद के लिए भी उन्हें याद किया जाएगा। 2004 से 2014 तक यूपीए सरकार के कार्यकाल के दौरान सुषमा स्वराज लोकसभा में विपक्ष की नेता थीं और उनका कार्यकाल सफल रहा था।

रेल मंत्रालय संभालने के बाद वाणिज्य व उद्योग और नागर विमानन मंत्री का कार्यभार संभालने वाले सुरेश प्रभु को भी इस बारे मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किया गया है।

पिछले सरकार में वित्त मंत्री रहे अरुण जेटली ने भी स्वास्थ्य खराब होने के कारण इस बार मंत्रीपरिषद में शामिल नहीं की घोषणा कर दी थी। इसलिए इस बारें अरुण जेटली को मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किया गया है।

पिछली सरकार में ओलंपियन और खेल व सूचना और प्रसारण मंत्रालय का सफलता पूर्वक कार्यभार संभालने वाले राठौर को भी मंत्रिपरिषद में स्थान नहीं दिया गया है। इनके साथ ही पूर्ववर्ती सरकार में पर्यटन और संस्कृति मंत्री रहे महेश शर्मा को भी मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किया गया है।

पिछले मोदी सरकार में जयंत सिन्हा ने पहले केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री और बाद में केंद्रीय नागर विमानन राज्य मंत्री का कार्यभार संभाला था, लेकिन उन्हें भी इस बार मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किया गया है।

पिछले मोदी सरकार के कार्यकाल में स्वास्थ्य मंत्री रहे नड्डा को भी इस बारे मंत्रिमंण्डल में स्थान नहीं मिला है। हालांकि इस बात के कयास लगाए जा रहे हैं कि वह अमित शाह के स्थान पर बीजेपी अध्यक्ष बनाए जा सकते हैं, इसलिए उन्हें मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किया गया है।

Tag In

#arun jetli #BJP #bjp 2019 #loksabha-saabha-chunav #sushma swaraj #नरेन्द्रमोदी #पीएम मोदी bjp loksabha-2019 modi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *