shilanka

ईस्टर पर श्रीलंका के तीन चर्चों में आत्मघाती हमला, 290 लोगों की मौत, करीब 500 लोग घायल

न्यूज़ गैलरी,

ले पंगा न्यूज डेस्क, अशोक योगी। रविवार को श्रीलंका में ईस्टर के मौके पर तीन चर्चों और लग्जरी होटलों में हुए आत्मघाती हमलों में 290 लोगों की मौत हो गई जबकि करीब 500 अन्य घायल हो गए। इस आत्मघाती हमलों में 6 घंटे में आठ बम धमाके हुए है। पुलिस प्रवक्ता रूवन गुनासेकरा ने बताया कि द्वीपीय राष्ट्र में हुए सबसे खतरनाक हमलों में से एक, ये विस्फोट स्थानीय समयानुसार पौने नौ बजे ईस्टर प्रार्थना सभा के दौरान कोलंबो के सेंट एंथनी चर्च, पश्चिमी तटीय शहर नेगोम्बो के सेंट सेबेस्टियन चर्च और बट्टिकलोवा के एक चर्च में हुए। वहीं अन्य तीन विस्फोट पांच सितारा होटलों शंगरीला, द सिनामोन ग्रांड और द किंग्सबरी में हुए।

गुनसेखरा ने बताया, “धमाकों में कम से कम 290 लोगों की जान गई है। उधर, सिनामोन ग्रांड होटल के रेस्तरां में एक आत्मघाती हमलावर ने विस्फोट कर खुद को उड़ा दिया। पुलिस फिलहाल इस बात की पुष्टि करने की स्थिति में नहीं है कि क्या सभी हमले आत्मघाती थे। उन्होंने कहा कि काटुवापितिया (नेगोम्बो) चर्च में हुए बम धमाके में ऐसे संकेत मिलते हैं कि यह आत्मघाती हमले जैसा था। इस मामले में 24 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक नेशनल अस्पताल में 66 शवों को रखा गया था जबकि 260 घायलों का अस्पताल में इलाज चल रहा है। उन्होंने कहा कि 104 शवों को नेगोम्बो अस्पताल में रखा गया है जबकि 100 घायलों का अस्पताल में इलाज चल रहा है।

विदेश सचिव रविनाथा अरियासिंघे ने बताया है कि धमाकों में कम से कम 27 विदेशी मारे गए हैं। उधर, कोलंबो में चीनी दूतावास के अनुसार धमाकों में दो चीनी नागरिकों की मौत पुष्टि हुई है। वही दूतावास घायल चीनी नागरिकों की संख्या की पुष्टि करने की कोशिश कर रहा है।

राष्ट्रपति ने की शांति बनाए रखने की अपील

श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। सिरिसेना ने कहा, ‘‘ मैं इस अप्रत्याशित घटना से सदमे में हूं। सुरक्षाबलों को सभी जरूरी कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं।’’  वही प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे ने इसे ‘‘कायराना हमला’’ बताते हुए कहा कि उनकी सरकार ‘‘स्थिति को नियंत्रण’’ में करने के लिए काम कर रही है। उन्होंने ट्वीट किया,‘‘ मैं श्रीलंका के नागरिकों से दुख की इस घड़ी में एकजुट एवं मजबूत बने रहने की अपील करता हूं। सरकार स्थिति को काबू में करने के लिए तत्काल कदम उठा रही है।’’  श्रीलंका के आर्थिक सुधार एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री हर्षा डी सेल्वा ने बताया कि श्रीलंका सरकार ने आपात बैठक बुलाई है। सभी आवश्यक आपातकालीन कदम उठाए गए हैं उन्होंने कहा, ‘‘ बेहद भयावह दृश्य, मैंने लोगों के शरीर के अंगों को इधर-उधर बिखरे देखा। आपातकालीन बल सभी जगह तैनात हैं।’’

भारतीय उच्चायुक्त ने किया हेल्पलाइन नम्बर जारी

कोलंबो में भारतीय उच्चायुक्त ने ट्वीट किया, ‘‘ विस्फोट आज कोलंबो और बट्टिकलोवा में हुए। हम स्थिति पर लगातार नजर रख रहे हैं। भारतीय नागरिक किसी भी तरह की सहायता, मदद और स्पष्टीकरण के लिए इन नंबरों पर फोन कर सकते हैं- +94777903082, +94112422788, +94112422789 ।’’  उच्चायुक्त ने अन्य एक ट्वीट में लिखा, ‘‘ दिए गए नंबरों के अलावा भारतीय नागरिक किसी भी सहायता व मदद और अन्य किसी स्पष्टीकरण के लिए +94777902082, +94772234176 नंबरों पर फोन करके जानकारी ले सकता है।’’

शाम छह से सुबह छह बजे तक कर्फ्यू का ऐलान

पुलिस प्रवक्ता रूवन गुनसेखरा ने बताया कि तत्काल प्रभाव से कर्फ्यू को लागू किया गया है। कर्फ्यू अगले नोटिस तक अनिश्चितकाल के लिए लागू रहेगा। वास्तविक घोषणा कहती है कर्फ्यू शाम छह बजे से शुरू होगा और सोमवार सुबह छह बजे तक जारी रहेगा। इस बीच राजधानी में विभिन्न धार्मिक स्थलों के आसपास सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है।

Tag In

#curfew #ministry of home affairs #srilanka #srilanka attack #sushma swaraj latest news #sushmaswaraj

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *