उत्तर प्रदेश में अल्पसंख्यकों का वोट बंटना दुखद :सलमान खुर्शीद

लोकसभा 2019,

 

सलमान खुर्शीद इस बार चुनाव में मुस्लिम वोट बंटने से आहत हैं,सलमान खुर्शीद के मुताबिक इस लोकसभा चुनाव में मुस्लिम मतदाताओं ने उत्तर प्रदेश में कांग्रेस और सपा-बसपा गठबंधन को दिया है 2014 में सलमान खुर्शीद चौथे स्थान पर थे। कांग्रेस ने फिर उनके ऊपर भरोसा जताकर फर्रुखाबाद से मैदान में उतारा है।
सलमान खुर्शीद ने कहा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चुनाव प्रचार के दौरान बहस के मुद्दे को बदल रहे हैं, क्योंकि वह जानते हैं कि हार रहे हैं और हताश हैं। आप उनके पिछले चुनाव प्रचार से इस चुनाव प्रचार की तुलना कर सकते हैं। पिछले चुनाव प्रचार पर उनका नियंत्रण था, लेकिन इस बार उनका नियंत्रण नहीं है। उन्होंने चुनाव के दौरान मुद्दों पर बात करते हुए कहा कि जब तक हम अपना चुनाव लड़ रहे हैं, केवल मुख्य मुद्दे ही हमारे सामने हैं। इसके बाद के चरणों में, मोदी अति पर पहुंच गए थे, एक या दो चीजें होती हैं, लेकिन हम उस पर टिके रहे जो हम कर रहे थे। मुझे लगता है हम अपने रणनीति के हिसाब से आगे बढ़े।
मनमोहन सिंह से पहले राजीव गांधी सरकार में भी मंत्री रहे सलमान खुर्शीद ने कहा कि उत्तर प्रदेश में अब तक हुए मतदान में मुस्लिम वोट बंट गए हैं। यह बेहद दुखद मामला है। उत्तर प्रदेश में मुस्लिमों ने बिहार की तरह वोटिंग नहीं की है। वहां मुसलमानों ने राष्ट्रीय पार्टी को वोट दिया है। सलमान खुर्शीद ने कहा मुस्लिम मतदाता कई जगहों पर असमंजस की स्थिति में थे। यह खराब बात है। यह संसदीय चुनाव है और मुस्लिम का भविष्य पूरी तरह से कांग्रेस या राष्ट्रीय दल के साथ है तो उनका वोट बंटना एक अच्छा विचार नहीं है। उन्होंने कहा, लेकिन आप मतदाताओं पर आरोप नहीं लगा सकते। मतदाता अपने स्थानीय मुद्दे और अन्य चीजों को लेकर चिंतित हैं।

पूर्व विदेश मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद ने कहा कि उत्तर प्रदेश में लोकसभा चुनाव के दौरन अब तक की वोटिंग में मुस्लिम वोटों में सपा-बसपा गठबंधन और कांग्रेस के बीच बंटवारा हो गया है। खुर्शीद ने कहा कि मुस्लिम समुदाय ने इस फैले हुए राज्य में रणनीति बनाकर वोट नहीं डाला है, जैसा कि इसने 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में किया था और कई जगहों पर वोट बंटे हुए हैं। उन्होंने कहा कि मुस्लिम वोट बिखरे हैं। कई जगहों पर यह कांग्रेस को मिला है।

कुछ जगहों पर गठबंधन और कांग्रेस के बीच बंट गया है। कुछ जगहों पर मजबूती के साथ गठबंधन को मिला है, लेकिन मुस्लिमों ने उस तरह से वोट नहीं किया है जैसा उन्होंने पिछली बार बिहार में किया था। बिहार में रणनीति बनाकर वोट दिया गया था, वहां खंडित वोट नहीं दिए गए थे। सलमान खुर्शीद ने कहा कि उत्तर प्रदेश में अल्पसंख्यकों को वोट बंटना एक दुखद प्रकरण है।

सलमान खुर्शीद ने सैम पित्रोदा और मणिशंकर अय्यर के विवादास्पद बयान पर कहा कि मीडिया ने इसे उछाल दिया और पार्टी के पास सिवाय स्टैंड लेने के कोई उपाय नहीं बचा। सच कहूं तो यह गैर-मुद्दे हैं। ये ऐसे मामले हैं जो पहले हो चुके हैं। इन सब मुद्दों पर कांग्रेस का क्या पक्ष है इसको भी भली-भांति जानते हैं।

Tag In

#2019 lok sabha elections #congress 2019 #salman-khurshid

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *