उन्नाव रेप कांड: सड़क हादसे के चार दिन बाद भी पीड़िता और वकील की हालत स्थिर, SC ने मांगी रिपोर्ट

न्यूज़ गैलरी,

ले पंगा न्यूज डेस्क, प्रियंका शर्मा। उन्नाव रेप पीड़िता जिंदगी और मौत के बीच झूल रही है. बता दे कि सड़क हादसे के 4 दिन बाद भी पीड़िता और उसके वकील की हालत में खास सुधार नहीं हो रहा, लखनऊ के ट्रॉमा सेंटर दोनों की हालत गंभीर बनी हुई है. दोनों अभी वेटिलेटर पर हैं, डॉक्टर के मुताबिक पीड़िता के शरीर में कई जगह हड़्डियां टूटी हैं. वहीं पीड़िता के वकील की हालत भी गंभीर है. हालांकि इस बात की भी मांग लगातार की जा रही हैं कि दोनों को एयरलिफ्ट करके दिल्ली लाया जाए.

दरअसल बुधवार को सुप्रीम कोर्ट की ओर से संज्ञान लेने के बाद आज इस मामले की सुनवाई होनी है. वहीं सीजेआई रंजन गोगोई की पीठ ने बुधवार को मामले में स्वत: संज्ञान लेते हुए शीर्ष अदालत के सेक्रेटरी जनरल से रिपोर्ट भी मांगी कि आखिर पत्र को हम तक पहुंचने में देरी क्यों हुई? जस्टिस गोगोई ने रजिस्ट्रार से पूछा कि 12 जुलाई को लिखी गई चिट्ठी मंगलवार दोपहर तक उनके सामने क्यों पेश नहीं की गई?

दुर्भाग्य से मैं पत्र 19 वर्षीय पीड़िता और उसके परिवार ने 12 जुलाई को ही लिखा था. इसमें पीड़िता ने अपनी जान को खतरा बताया था. वहीं, पीड़िता के परिवार ने इस पत्र में भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की धमकियों का जिक्र किया था. सीजेआई ने कहा कि मीडिया में खबरें चल रही हैं कि पीड़िता ने हमें पत्र भेजा, मगर हम उसे अभी तक देख नहीं पाए. उन्होंने अखबारों में छपी उन खबरों पर खेद भी जताया, जिसमें कहा गया था कि इस मामले में सीजेआई ने अभी तक कोई कदम नहीं उठाया.

Tag In

#Unnao_accident

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *