एनआरसी की फाइनल लिस्ट जारी होगी 31 अगस्त को।

न्यूज़ गैलरी,

ले पंगा न्यूज डेस्क। 31 अगस्त को असम में राष्ट्रिय नागरिकता रजिस्टर प्रकाशित होने जा रहा है। एनआरसी से बाहर लोगों के लिए सरकार के द्वारा कुछ परामर्श दिए गए हैं। सबसे पहले उन्हें ये बताया गया है की एनआरसी में नाम ना आने का मतलब यह नहीं है की उन्हें तुरंत प्रभाव से विदेशी नागरिक घोषित कर दिया जाएगा। एनआरसी से बाहर हर व्यक्ति विदेशी न्यायाधिकरण में अपील कर सकता है। विदेशी न्यायाधिकरण में अपील करने की समय सीमा पहले 60 दिन थी उसे बढाकर 120 दिन कर दिया गया है। सरकार विधिक सेवा प्राधिकरणों के माध्यम से आर्थिक रूप से कमजोर लोगो को मदद करेगी।एनआरसी से नाराज लोगो के अपील के लिए और विदेशी न्यायालयों की स्थापना की जाएगी।

एनआरसी में चूक होने की भी आशंका है। यह हो सकता है की कुछ विदेशी नागरिकों के नाम एनआरसी में आ जाए और कुछ भारतीय नागरिकों के नाम लिस्ट में छूट जाए। कांग्रेस ,बीजेपी समेत और भी पार्टियां इस शंका से सहमत है। मूल याचिका करता असम पब्लिक वर्क्स ने भी यह आशंका जताई है।

एनआरसी की सूची 31 अगस्त को पूरी होने जा रही है। इस सूची के आने के बाद कुछ लोग भारतीय नागरिकता से बहार हो सकते हैं। एनआरसी की सूची की नाराजी के चलते असम में माहौल ख़राब होने की आशंका है। इसलिए असम पुलिस ने प्रदेश में शांति बनाए रखने के लिए अभी से पुख्ता इंतजाम किया है।

पुलिस ने जनता से अफवाहों पर ध्यान ना देने की अपील की है। पुलिस ने बताया की सरकार ने उन लोगो को सुरक्षा की भी पूरी तैयारी की है जो एनआरसी की सूची से बाहर होंगे। असम में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए कड़ी सुरक्षा प्रबंध किए हैं। राज्य में कई जगह धारा 144 लगाई गई है।
एनआरसी असम के लोगों को असम पहचान दिलाने और अवैध रूप से असम में रहने वाले नागरिको से असम के नागरिकों की सुरक्षा की प्रक्रिया है।

Tag In

#congress loksabha #India #loksabha-saabha-chunav #Police #नरेन्द्रमोदी assam nrc assom modi national register of citizens nrc nrc list politics

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *