एमपी में टिकट कटने से नाराज बीजेपी सांसदों ने की बगावत, नाराज सांसदों में शामिल है वाजपेयी के भांजे अनूप

IPL-2019,लोकसभा 2019,

ले पंगा न्यूज डेस्क, अशोक योगी। लोकसभा चुनाव के टिकट को लेकर मध्यप्रदेश के बीजेपी नेताओं ने रोष व्यक्त किया है। टिकट नहीं मिलने से नाराज सांसद बगावत करना शुरु कर दिया है। मध्यप्रदेश में बीजेपी नेताओं के टिकट कटने वालों में मुरैना सांसद और पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी के भांजे अनूप मिश्रा का नाम शूमार है। बीजेपी ने अब तक 14 सीटों के लिए उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर चुकी है। वही बीजेपी ने पांच वर्तमान सांसदों का टिकट काटा है। टिकट काटे जाने को लेकर पार्टी में विरोध के स्वर मुखर हो रहे हैं।

ये भी पढ़े:- किन्नर अखाड़े की महामंडलेश्वर को प्रयागराज से मैदान में,उर्मिला मातोंडकर मुंबई उत्तर सीट से

उम्मीदवारों ने निर्दलीय चुनाव लड़ने की दी चेतावनी

शहडोल से सांसद ज्ञान सिंह ने टिकट काटे जाने पर नाराजगी जताते हुए कहा कि वे गरीब हैं, इसलिए उनका टिकट काटा गया है। बीजेपी में कांग्रेस से आई हिमाद्री सिंह को उम्मीदवार बनाए जाने पर भी ज्ञान सिंह ने आपत्ति दर्ज कराई है। साथ ही निर्दलीय उम्मीदवार के तौर चुनाव लड़ने की चेतावनी दी है। इधर, भिंड संसदीय क्षेत्र के पूर्व सांसद अशोक अर्गल ने टिकट न मिलने पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा है कि बीजेपी ने यहां से संध्या राय को उम्मीदवार बनाया है। जिसके कारण बीजेपी को हार का सामने करना पड़ेगा। सूत्रों के मुताबिक अर्गल राज्य के बड़े कांग्रेस नेताओं के संपर्क में हैं।

ये भी पढ़े:नामांकन के पहले दिखाई अमित शाह ने ताकत

राज्य के बड़े कांग्रेस नेता से उनकी बुधवार को मुलाकात भी हो चुकी है।

वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात कर उम्मीदवार में बदलाव की मांग वही मुरैना संसदीय क्षेत्र के सांसद अनूप मिश्रा टिकट कटने से बीजेपी पर गुस्सा निकालते हुए कहा है कि बीजेपी मनाने की कोशिश में लगी हुई है और उन्हें ग्वालियर संसदीय क्षेत्र से पार्टी का उम्मीदवार बनाए की कोशिश कर रही है। मेरा टिकट काटकर मुरैना से केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को टिकट दिया गया है। वहीं, टीकमगढ़ संसदीय क्षेत्र से वर्तमान सांसद और भारतीय जनता पार्टी की ओर उम्मीदवार बनाए गए मंत्री वीरेंद्र खटीक का स्थानीय नेता विरोध कर रहे हैं। पूर्व विधायक आर डी प्रजापति ने बुधवार को बीजेपी के प्रदेश कार्यालय में वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात कर उम्मीदवार में बदलाव की मांग की है। प्रजापति का कहना है कि अगर उम्मीदवार नहीं बदला गया तो बीजेपी को हार का सामना करना पड़ेगा। गौरतलब है कि संगठन महामंत्री रामलाल और लोकसभा चुनाव के लिए मप्र के प्रभारी स्वतंत्रदेव सिंह ने पार्टी के खिलाफ बयानबाजी न करने की सलाह दी |

Tag In

#अटल बिहारी वाजपेयी के भांजे अनूप मिश्रा #नरेंद्र सिंह तोमर #नरेन्द्रमोदी #पीएम मोदी #पूर्व विधायक आर डी प्रजापति #महामंत्री रामलाल #मुरैना #वीरेंद्र खटीक #संध्या राय #सांसद बगावत #स्वतंत्रदेव सिंह #हिमाद्री सिंह कांग्रेस बीजेपी लोकसभा चुनाव 2019

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *