farmer

गांवों में सबसे बड़ा मुद्दा तो है किसानों की बदहाली, पानी के लिए लड़नी पड़ रही है लड़ाई

लोकसभा 2019,

ले पंगा न्यूज डेस्क, अशोक योगी। लोकसभा चुनाव में भाजपा राष्ट्रवाद का नारा, सर्जिकल स्ट्राइक जैसे मुद्दों पर, तो कांग्रेस न्याय योजना पर चुनाव लड़ रही है। लेकिन गांवों में किसानों के पानी, बिजली और फसल के उचित दाम नही मिलना जैसे मुद्दे जड़ हुए है। साहेब एसी से निकलकर लोगों से बात कीजिए तो पता चलता है कि गावों में सबसे बड़ा मुद्दा तो किसानों की बदहाली है।

देश में किसान इस बात से नाराज हैं कि यहां के किसानों की फसल तो खेतों में ही सड़ जाती है। वही दूसरी तरफ विदेशों से आयातित फसलों से देश के बाजार अटे पड़े थे। इसके अलावा देश के किसानों को पानी का संकट भी झेलना पड़ रहा है। जिसका अभी तक कोई समाधान नहीं हुआ है। किसान इसे भी चुनावों में एक मुद्दे के रूप में देखते हैं। लेकिन राजनीतिक पार्टियों के कार्यकर्ताओं और नेताओं से बात कीजिए तो वो तोते की तरह अपनी अपनी पार्टी के नारे और मुद्दे रटते हैं।

देश की प्रमुख पार्टी भाजपा आतंकवाद पर प्रहार, राष्ट्रवाद और नरेंद्र मोदी की छवि को सबसे बड़ा मुद्दा बताती हैं वही, कांग्रेस बेरोजगारी, नोटबंदी और जीएसटी की मार और कांग्रेस की न्याय योजना को मुद्दा बता रही है। लेकिन आम लोगों से बात कीजिए तो वो इन सबसे अलग अपनी स्थानीय समस्याओं और रोजमर्रा की जिंदगी की दिक्कतों को सबसे बड़ा मुद्दा मानते हैं। उनके बीच न भाजपा के बालाकोट के राष्ट्रवाद का ज्वार है और न ही कांग्रेस के न्याय योजना को लेकर कोई रोमांच या उत्साह है।

Tag In

#bjp 2019 #bjp news #BJP2019 #congress 2019 #congress loksabha #congresss #Farmer #lok sabha chunav 2019 #Loksabha Elections 2019 #loksabha-chunav #loksabha-saabha-chunav bjp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *