madhusudan

गोरखपुर सीट से कांग्रेस ने फिर ब्राह्मण चेहरे पर खेला दांव

लोकसभा 2019,

ले पंगा न्यूज डेस्क, अशोक योगी। आखिकार कांग्रेस ने भी लोकसभा चुनाव के लिए गोरखपुर सीट से अपने उम्मीदवार की घोषणा कर दी है। बीजेपी की गढ़ माने जाने वाली गोरखपुर सीट पर कांग्रेस वापसी की राह देख रही है। ऐसे में कांग्रेस ने एक बार फिर यहां से ब्राह्मण चेहरे मधुसुदन तिवारी पर दांव खेला है। यहां पर तिवारी का सीधा मुकाबला बीजेपी के ब्राह्मण प्रत्याशी रवि किशन शुक्ला और सपा-बसपा गठबंधन के उम्मीदवार रामभुआल निषाद से होगा। कांग्रेस ने मधुसूदन तिवारी के कंधे पर पूर्वांचल की इस महत्वपूर्ण सीट पर एक बार फिर कांग्रेस की वापसी कराने की जिम्मेदारी सौपीं है। जब आखिरी बार कांग्रेस ने गोरखपुर सीट जीत दर्ज की थी। तब ब्राह्मण उम्मीदवार मदन पांडे ने जीत हासिल की थी। मदन पांडे 1984 के चुनाव में इस सीट से जीत हासिल करने वाले आखिरी कांग्रेसी उम्मीदवार थे। ऐसे में इस बार देखने वाली बात होगी कि मधुसूदन तिवारी क्या कमाल कर सकते हैं, वो बीजेपी के ब्राह्मण प्रत्याशी रवि किशन शुक्ला का खेल बिगाड़ते हैं या फिर सपा-बसपा गठबंधन के प्रत्याशी रामभुआल निषाद की राह रोकते हैं।

अब देखना है कि किसके साथ जाएंगे ब्राह्मण वोटर्स

गोरखपुर में ब्राह्मण के करीब 2 लाख मतदाता हैं। यहां के ब्राह्मण मतदाता आमतौर पर बीजेपी को अपनी पसंद मानते हैं। ब्राह्मण वोटबैंक को देखते हुए ही बीजेपी ने 2018 के उपचुनाव में उपेंद्र शुक्ला को प्रत्याशी बनाया था, लेकिन उसका दांव फेल हो गया था और सपा के टिकट पर चुनाव लड़ने वाले प्रवीण निषाद ने जीत हासिल की. हालांकि प्रवीण निषाद अब बीजेपी में हैं और संतकबीरनगर से बीजेपी के प्रत्याशी हैं। गोरखपुर लोकसभा सीट को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का गढ़ कहा जाता है। योगी आदित्यनाथ की जीत में ब्राह्मण मतदाताओं ने अहम भूमिका निभाई। 2018 के उपचुनाव को छोड़ दें तो बीते 21 साल में ये पहला चुनाव है जब योगी आदित्यनाथ उम्मीदवार नहीं हैं। 1998 में पहली बार यहां से जीतने के बाद यहां पर सिर्फ और सिर्फ योगी आदित्यनाथ का ही जादू चला है। लेकिन इस बार देखने वाले बात ये होगी कि ब्राह्मण मतदाता किसके साथ जाते हैं क्या वे बीजेपी के साथ बने रहेंगे या कांग्रेस को राहत की खबर पहुंचाएंगे।

Tag In

#congress 2019 #Loksabha Elections 2019 #loksabhachunav2019 #madhusudan #ravikishan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *