chanda

चंदा कोचर को CBI का करारा झटका, लुकआउट नोटिस जारी

न्यूज़ गैलरी,

नई दिल्ली । सीबीआई ने आज आईसीआईसीआई बैंक की पूर्व सीईओ चंदा कोचर के अलावा उनके पति दीपक कोचर और वीडियोकॉन इंडस्ट्रीज एमडी वेणुगोपाल धूत के खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी कर करारा झटका दिया है। बता दें कि पिछले महीने ही इन तीनों के खिलाफ सीबीआई ने 1875 करोड़ के भ्रष्टाचार के आरोप में केस दर्ज किया था। साल 2009 से 2011 के बीच चंदा के कार्यकाल के दौरान वीडियोकॉन को छह बार लोन दिया गया था, जिसमें घोटाले का आरोप है। सीबीआई के अलावा प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) भी इस मामले में जांच कर रही है।

तीनों अपराधी देश नहीं छोड़ सकते

आईसीआईसीआई बैंक की पूर्व सीईओ चंदा कोचर, उनके पति दीपक कोचर और वीडियोकॉन इंडस्ट्रीज एमडी वेणुगोपाल धूत सीबीआई के लुट आउट नोटिस के बाद अब देश छोड़कर बाहर नहीं जा सकेंगे। नोटिस के अनुसार इनको एटरपोर्ट पर ही रोक लिया जाएगा। बता दें कि, ऐसे आर्थिक अपराध करने वाले लोगों के खिलाफ लुट आउट नोटिस जारी किया जाता है। सीबीआई के अलावा ईडी को कोचर दंपत्ति द्वारा खरीदी गई संपत्तियों की जांच करनी है, जिसमें दक्षिण मुंबई स्थित उनके द्वारा खरीदा गया एक अपार्टमेंट भी शामिल है। ईडी ने कहा है कि कोचर दंपत्तियों पैसों की हेराफेरी करने के लिए कई सारी कंपनियों को बनाया, जिसके जरिए वीडियोकॉन समूह को पैसा भेजा गया था। इस मामले में रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज से भी बात की जाएगी।

चंदा को लौटाना होगा बोनस का पैसा

देश के किसी बैंक की पहली महिला सीईओ बनने वाली चंदा राजस्थान के जोधपुर से हैं। 2009 में 48 साल की चंदा किसी बैंक की सबसे युवा सीईओ थीं। आईसीआईसीआई बैंक में 1984 में मैनेजमेंट ट्रेनी नौकरी शुरू करने वाली चंदा कोचर को 2009 में बैंक का सीईओ बनाया गया था। वीडियोकॉन विवाद के बाद उनकी छवि धूमिल हो गई। 2011 में राष्ट्रपति द्वारा राष्ट्रीय सम्मान पद्मभूषण प्राप्त करने वाली चंदा के खिलाफ सीबीआई ने 1875 करोड़ के घोटाने के आरोप में मामला दर्ज किया। आईसीआईसीआई बैंक द्वारा कदाचार का दोषी पाये जाने वाली चंदा कोचर ने 9 साल की नौकरी में बैंकिंग क्षेत्र में बड़ा नाम कमाया, लेकिन अब बैंक ने 2009 से मिले बोनस से लेकर के भविष्य में मिलने वाली कई सुविधाओं को वापस ले लिया है। अब जस्टिस बी.एन श्रीकृष्णा की रिपोर्ट जारी होने के बाद बैंक ने कड़ा कदम उठाते हुए उनको मिलने वाली सारी सुविधाओं को वापस ले लिया है। बैंकिग क्षेत्र में बड़े घोटाले के आरोप झेल रही चंदा कोचर फोर्ब्स और फार्च्यून पत्रिकाओं द्वारा विश्व की 100 सबसे शक्तिशाली महिलाओं की सूची में कई सालों तक शामिल होती रही हैं, उनके नेतृत्व में ही आईसीआईसीआई बैंक देश का दूसरा सबसे बड़ा निजी बैंक बना।

Tag In

#ICICI-bank #ICICI-CEO #kochar CBI chanda-kochar ICICI

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *