fani in india

चक्रवाती तूफान फानी ढा सकता है कहर, ‘येलो अलर्ट’ जारी, ओडिशा में किए स्कूल-कॉलेज बंद, यूपी भी होगा प्रभावित

न्यूज़ गैलरी,

ले पंगा न्यूज डेस्क, अशोक योगी। चक्रवाती तूफान फानी शुक्रवार दोपहर तक गोपालपुर और चांदबाली के बीच ओडिशा तट को पार करने की संभावना बनी हुई है। चक्रवाती तूफान फानी से देश में एक बड़ी मुसीबत आ सकती है। भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने फानी के संबंध में ‘येलो वार्निंग’ जारी कर दी है। मौसम विभाग ने ओडिशा, पश्चिम बंगाल और आंध्रप्रदेश के कुछ हिस्से के लिए चक्रवात का अलर्ट जारी किया है और तटीय इलाकों को खाली करने का सुझाव दिए गए है। ओडिशा में चक्रवाती तूफान फानी से बचने के लिए सभी स्कूल और कॉलेज बंद रखे जाएंगे। सभी स्कूल 2 मई से अगले आदेश तक बंद रखे जाएंगे। सभी परीक्षाओं की डेट भी आगे बढ़ा दी गई है।

वही ओडिया के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने मुख्य चुनाव आयुक्त से अपील की है कि पटकुरा विधानसभा क्षेत्र में 19 मई को होने वाले चुनाव की डेट आगे बढ़ा दी जाए। नवीन पटनायक की ओर से जारी किए गए पत्र में लिखा है कि फानी तूफान के चलते राजनगर ब्लॉक में भूस्खलन की संभावनाएं प्रबलतम हैं।

यूपी में भी दी चेतावनी

उत्तर प्रदेश में भी फानी चक्रवात के संबंध में चेतावनी दी गई है। किसानों से कहा गया है कि 2 और 3 मई को भयंकर बारिश हो सकती है। किसानों से फसलों को बचाने की सलाह भी दी गई है। साथ ही लोगों से जागरुक रहने की अपील की गई है। मौसम विभाग अलर्ट जारी कर कहा है कि बंगाल की खाड़ी में बने फानी चक्रवात की वजह से 2 और 3 मई को उत्तर प्रदेश में हल्की से मध्यम बारिश और तेज पूर्वी हवाओं के चलने की संभावना है। पूर्वी हवाओं की स्पीड लगभग 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की होगी। आगे मौसम विभाग ने कहा है कि किसान और भंडार गृह , नमी और तेज हवा से फसलों को होने वाली नुकसान से बचाने के लिए सावधानी बरते और सही जगह समुचित व्यवस्था करें।

भारत की ओर तेजी से बढ़ रहा फानी का प्रभाव

मौसम विभाग के अलर्ट विभाग का अनुमान है कि ‘फानी’ का प्रभाव दक्षिण-पश्चिम, पश्चिम-मध्य और दक्षिण पूर्व बंगाल की खाड़ी की ओर है। यह ओडिशा के पुरी से 760 किलोमीटर दक्षिण-पश्चिम, विशाखापत्तनम के 560 किलोमीटर दक्षिण-पूर्व और त्रिणकोमली से 660 किलोमीटर उत्तरपूर्व(श्रीलंका) में है।

Tag In

#cyclone fani #imd

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *