khof

चुनाव आयोग तक पहुंची ममता और बीजेपी की लड़ाई

लोकसभा 2019,

ले पंगा न्यूज डेस्क। प्रीति दादूपंथी। पश्चिम बंगाल में ममता और बीजेपी की लड़ाई चुनाव आयोग के दरवाजे तक पहुंच गई है। बुधवार को बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं के एक प्रतिनिधि मंडल ने चुनाव आयोग से मिलकर ममता बनर्जी सरकार के खिलाफ शिकायत करते हुए गंभीर आरोप लगाये। बीजेपी नेताओं ने पूरे पश्चिम बंगाल को अति संवेदनशील घोषित करने साथ ही आदर्श आचार संहिता के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बेबुनियादी आरोप लगाने के मामले में कार्रवाई करने की मांग की है। इसके साथ ही बीजेपी ने राहुल गांधी की शिकायत भी चुनाव आयोग से की है।

स्थानीय पुलिस टीएमसी कार्यकर्ताओं की तरह करती काम

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने चुनाव आयोग से मुलाकात के के बाद कहा कि, ”हमने चुनाव आयोग को कुछ ऐसे पदाधिकारियों के नाम भी दिए है जिनकी निष्पक्षता स्पष्ट नहीं है। ऐसे अधिकारियों को चुनाव ड्यूटी से हटाया जाए साथ ही सभी बूथ पर केंद्रीय सुरक्षा बल को तैनात किया जाए। वहीं स्थानीय पुलिस टीएमसी के कार्यकर्ताओं की तरह काम करती है।”

पश्चिम बंगाल को अति-संवेदनशील घोषित करें

कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि, ”पश्चिम बंगाल में स्थानीय और ग्राम पंचायत चुनाव में 100 हत्याएं हुई, वहां पर जीते हुए लोगों को जाने नहीं दिया जाता। वहां के अधिकारी सीएम के साथ धरने पर बैठते है। वहीं सत्ताधारी पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह और मुख्यमंत्रियों का हेलिकॉप्टर भी नहीं उतरने दिया गया। इसलिए हमने मांग की है कि पश्चिम बंगाल को अति-संवेदनशील घोषित किया जाए।”

प्रसाद ने कहा, ”वहां मीडिया को अपनी बात कहने की आजादी नहीं दी जाती है। इसलिए हमारी मांग है कि बंगाल के लिए चुनाव आयोग एक मीडिया पर्यवेक्षक भी नियुक्त करें। 1986 के सर्कुलर में लिखा है कि धार्मिक स्थल के पास चुनाव प्रचार का स्पीकर नहीं लगेगा, जबकि परीक्षा हॉल के लिए ऐसा कुछ नहीं है। 1986 के सर्कुलर का हवाला देकर विरोधी पार्टियों को रोकना ये बहुत ही गलत और दुर्भाग्यपूर्ण है।”

राहुल गांधी के खिलाफ भी शिकायत

बीजेपी नेताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर झूठे आरोप लगाने की बात कहते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की शिकायत भी चुनाव आयोग से की है। रविशंकर प्रसाद ने कहा, ”हमने राहुल राहुल गांधी के खिलाफ शिकायत की है। चुनाव आयोग के निर्देश में साफ लिखा है कि आप झूठे आरोप नहीं लगाएंगे। राहुल गांधी ने जिस तरह से टीवी पर झूठे और बेबुनियाद आरोप लगाए, इससे कुछ शर्मनाक बात नहीं हो सकती है। इसलिए हमने चुनाव आयोग से आग्रह किया है कि आचार संहिता लागू है, इसलिए राहुल गांधी के खिलाफ भी कार्रवाई होनी चाहिए।”

Tag In

#प्रियंका गांधी #रविशंकर प्रसाद #राहुल गांधी डिंपल यादव बीजेपी ममता लोकसभा चुनाव 2019 सपा-बसपा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *