चेन्नई में इस व्यक्ति ने पानी की समस्या को दी ऐसे मात, सरकारी नल लेने से कर दिया साफ़ मना

न्यूज़ गैलरी,

ले पंगा न्यूज़ डेस्क, मोनिका सोनी। चेन्नई में पानी की कमी से लोग बड़ी परेशानी का सामना कर रहे हैं। आलम कुछ ऐसा है कि लोग अपनी प्यास भुजने के लिए हर तरीके से पानी का इंतेज़ाम कर रहे हैं फिर चाहें वो पैसे से पानी को खरीदना हो या भीड़ में खड़े रहकर कुए से पानी भरना। लेकिन इस बेहाली में भी चेन्नई में एक व्यक्ति ऐसा है जो लगातार नल कनेक्शन लेने से इंकार करता रहता है।

चेन्नई में रहने वाले इंद्र कुमार ने रेन वाटर हार्वेस्टिंग का इस्तेमाल कर इतना पानी इकट्टा कर लिया है कि उन्हें पानी के संकट का सामना नहीं करना पड़ रहा। ख़बरों के अनुसार, इंद्र कुमार ने रेन वाटर हार्वेस्टिंग करने का फैसला जब लिया जब उनके कुए का पानी मीठा मिलना खत्म हो गया। उन्होंने छह महीने तक इस योजना को ज़ारी रखा और जब पानी की गुणवत्ता में सुधार दिखाई देने लगा तो उन्होंने इस योजना का प्रचार शुरू किया और देखते ही देखते साल 1998 से 2000 के बीच 1,000 से अधिक घर रेन वॉटर हार्वेस्टिंग से लैस हो गए।

बहरहाल, इंद्रकुमार के साथ साथ एमबी निर्मल ने भी लोगों के सामने एक उदाहरण पेश किया है। निर्मल अपनी बिल्डिंग के 12वें मंजिल पर रहते हैं और उनकी दोनों बालकनी और बैठक में 17,00 पौधे लगे हुए हैं। जब चेन्नई में उनके एरिया में प्रदुषण नापा जा रहा था तब उनके घर में प्रदुषण की संख्या बिलकुल नहीं पायी गयी और यह सब उनके घर में उग रहे पौधों की वज़ह से हुआ। बता दें कि निर्मल एक एनजीओ एक्नोरा इंटरनेशनल के प्रेसिडेंट हैं।

Tag In

#चेन्नई #नल_कनेक्शन #पानी #वाटर_हार्वेस्टिंग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *