उत्तर कोरिया aur amirika

दूसरी वार्ता रद्द होने के बाद बढ़ा अमेरिका और उत्तर कोरिया में तनाव

न्यूज़ गैलरी,

ले पंगा न्यूज डेस्क, अशोक योगी। अमेरिका की ओर से गैर कानूनी तरीके से कोयले की खेप ले जा रहे मालवाहक जहाज को सीज करने की घोषणा करने के बाद किम जोंग ने सख्त तेवर दिखाएं है। उत्तर कोरिया का तानाशाह किम जोंग उन एक बार फिर से जंग के मूड में नजर आ रही है। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और किम जोंग उन के बीच दूसरी वार्ता रद्द होने के बाद से ही यह तनाव बढ़ गया है। दोनों के बीच फरवरी में वियतनाम की राजधानी हनोई में दूसरी बार मुलाकात और वार्ता होनी थी, लेकिन मतभेदों के चलते बातचीत नहीं हो पाई।

उधर, अमेरिका ने उत्तर कोरिया से परमाणु हथियारों को नष्ट करने की मांग की थी और उत्तर कोरिया ने प्रतिबंध हटाने की मांग की थी। इसको लेकर दोनों के बीच बात नहीं बनी और उत्तर कोरिया फिर से अपने पुराने रुख उत्तर आया है। अब उत्तर कोरिया के सुप्रीम लीडर किम जोंग उन ने एक बार फिर से अपनी सेना को हमला करने की क्षमता बढ़ाने का आदेश दिया है।

उत्तर कोरिया की कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी के अनुसार सेना से सीमा पर युद्ध और किसी भी आपातकालीन स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार रहने को कहा है। कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी ने बताया कि किम जोंग उन के हवाले से कहा कि देश की शांति और सुरक्षा की गारंटी सिर्फ मजबूत सैन्य शक्ति से ही संभव है। सैन्य शक्ति के जरिए ही देश की संप्रभुता की सुरक्षा की जाती है।

उत्तर कोरिया ने कम दूरी तक मार करने वाली दो मिसाइलों का परीक्षण करके अमेरिका और दक्षिण कोरिया को साफ संकेत दे दिया था कि वो फिर से अपनी परमाणु क्षमता बढ़ाएगा। गौरतलब है कि नवंबर 2017 में उत्तर कोरिया ने लंबी दूरी तक मार करने वाली इंटरकॉन्टिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण किया था

विशेषज्ञों के मुताबिक उत्तर कोरिया का मिसाइल परीक्षण करना इस बात का साफ संकेत है कि वह नए हथियार विकसित करने को लेकर गंभीर हो गया है। वो इन नए हथियारों का इस्तेमाल जंग में दक्षिण कोरिया और अमेरिका के खिलाफ कर सकता है।

Tag In

#amrika #kimkong #lepannga news #usa #उत्तर कोरिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *