देश के सुरक्षा क्षेत्र में हो रहे तत्परता से काम

न्यूज़ गैलरी,

ले पंगा न्यूज डेस्क, चंदना पुरोहित। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुछ समय पहले कमांडर्स कांफ्रेंस में नई सुरक्षा एजेंसियों को मंजूरी दी थी। सर्जिकल स्ट्राइक करने के लिए और अंतरिक्ष से होने वाले हमलों से निपटने के लिए, डिफेंस साइबर एजेंसी (डीसीए), डिफेंस स्पेस रिसर्च एजेंसी (डीएसआरए), आर्म्ड फोर्सेज स्पेशल ऑपरेशन डिवीज़न (एएफएसओडी) इन तीन नई सुरक्षा एजेंसियों का गठन जल्द ही किया जाएगा। यह तीनों एजेंसियां तीनों सेनाओं की मदद से गठित की जाएंगी और ये एजेंसियां सीधे चीफ ऑफ़ डिफेन्स स्टाफ को रिपोर्ट करेंगी। सरकार 6 महीनों के अंदर इन एजेंसियों का गठन करेगी और यह सुरक्षा एजेंसियां चीफ ऑफ़ डिफेन्स स्टाफ के अधीन काम करेंगी। इनका मुख्यालय दिल्ली में सेना मुख्यालय में होगा।

इन एजेंसियों की जरुरत देश को लंबे समय से थी। जानकारी के लिए बता दें के डिफेंस सायबर एजेंसी सायबर सुरक्षा और सायबर युद्ध से निपटने के लिए काम करेगी। वहीं डिफेंस स्पेस रिसर्च एजेंसी अंतरिक्ष युद्ध की चुनौतियों से निपटेगी और उपग्रहों की रक्षा का काम करेगी और आर्म्ड फोर्स स्पेशल डिवीज़न तीनो सेनाओं की मदद से सर्जिकल स्ट्राइक, एयर स्ट्राइक जैसे विशेष अभियानों की तैयारी करेगी और उन्हें क्रियान्वित करने का काम करेगी। देश की हर तरह से सुरक्षा मौजूदा सरकार का मुख्य एजेंडा नजर आता है। मौजूदा सरकार भले ही आर्थिक मोर्चे पर पिछड़ती नजर आ रही है और सरकार की आर्थिक मामलों में आलोचना हो रही है,परन्तु रक्षा मामलों में सरकार काफी सतर्क और सक्रीय नजर आ रही है।

Tag In

#कमांडर्स #प्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदी #सुरक्षा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *