धोखेबाज पड़ोसी पाकिस्तान का ईलाज जरूरी – स्थानीय, चप्पे-चप्पे पर सतर्क सेना

एयर स्ट्राइक,

ले पंगा न्यूज़ डेस्क । पुलवामा आतंकी हमले पर भारत सरकार के करारे जवाब के बाद पाकिस्तान के पसीने निकल गए। बुधवार को सुबह 3.30 बजे बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के कई आतंकी ठिकानों पर भारत की बमबारी के बाद से पाकिस्तान बौखला गया है और भारत-पाक अंतराराष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तानी फौज लगातार सीजफायर तोड़ रही है। आपकों बता दे कि बुधवार को सूरज डूबने के बाद पाकिस्तानी रेंजर्स ने राजौरी जिले के मेंढर और कृष्णा घाटी इलाके में अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। पाकिस्तान की ओर से मोर्टार और छोटे हथियारों से लगातार फायरिंग आ रही है। लेकिन हमारी भारतीय सेना भी किसी से कम नहीं हैं, भारतीय फौज ने भी सरहद पर लगातार पाकिस्तान की हर हिमाकत का मुंहतोड़ जवाब दिया।

पाकिस्तान के चेहरे पर देखना चाहते हैं खौफ, धोखेबाज पड़ोसी की ईलाज जरूरी – स्थानीय ग्रामीण

देर रात पुंछ के देगवार सेक्टर और उरी सेक्टर में पाकिस्तान की ओर से ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू हो गई। हालांकि यहां के लोगों के चेहरे पर जरा भी खौफ नहीं है बल्कि यहां के लोग पाकिस्तान के चेहरे पर खौफ देखना चाहते हैं। आपको बता दें कि प्रशासन ने लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने के लिए गाड़ियां तक भेजी लेकिन ज्यादातर लोगों ने अपना घर छोड़ने से मना कर दिया। स्थानीय लोगों का कहना है कि पाकिस्तान पिछले दो दिनों से कभी भी फायरिंग शुरू कर देता है, ऐसे धोखेबाज पड़ोसी का इलाज जरुरी है, पाकिस्तान लगातार भारतीय इलाकों में बसे गांवों को निशाना बना रहा है।

हाई अलर्ट पर सीमा, चप्पे-चप्पे पर रखी जा रही नज़र

ऐंसे में, जम्मू-कश्मीर में LoC और अंतरराष्ट्रीय सीमा से लगे 5 किलोमीटर दायरे में आने वाले स्कूल आज भी बंद रहेंगे और अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर पर आरएस पुरा सेक्टर में हाई अलर्ट जारी किया गया हुआ है। यहां के लोगों से घरों में रहने के लिए कहा गया है। बता दें कि, LoC और अंतरराष्ट्रीय सीमा से सटे इलाकों से पलायन करने वाले लोगों के रहने के लिए प्रशासन की ओर से कैंप लगाए जा रहे हैं, जिससे उन्हें किसी तरह की कोई खास परेशानी का सामना नहीं करना पड़े। वही दूसरी ओर, भारतीय फौज पाकिस्तान की हर हिमाकत का कड़ा जवाब देने के लिए तैयार है। जी हां LoC और अंतरराष्ट्रीय सीमा पर कड़ी निगरानी के साथ भीतरी इलाकों की हर छोटी-बड़ी हलचल पर सुरक्षा एजेंसियों की पैनी नजर है। ये हलचल जम्मू कश्मीर ही नहीं पंजाब सरहद पर भी तेज है। पंजाब के 500 किलोमीटर से भी लंबी सीमा रेखा के चप्पे चप्पे की निगरानी रखी जा रही है।

गुजरात बॉर्डर पर बीएसएफ की चौकसी

आपको बता दें कि, गुजरात में सरहद का मिजाज थोड़ा अलग है। यहां पाकिस्तान पानी के रास्ते हमेशा घुसपैठ की फिराक में रहता है। पानी, दलदल और नमक से भरी जमीन के बीच सरहद की हिफाजत बीएसएफ के लिए हमेशा से बड़ी चुनौती रही है। सूत्रों के मुताबिक, पाकिस्तान ने कच्छ सीमा की ओर अपनी सेना और हथियारों की तैनाती शुरू कर दी है। तनाव के बाद बीएसएफ द्वारा यहां खास चौकसी बरती जा रही है।

Tag In

#attack attack in india #pakistan #UN #united-nation army attack in jammu crpf crpf attack crpf in india india indian army

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *