नई मोदी सरकार में इन रिटायर्ड नौकरशाह को मिली सत्ता और इनका कटा पत्ता

राजनीति,

ले पंगा न्यूज। देवेन्द्र कुमार। नई मोदी सरकार का शपथ ग्रहण समारोह हुआ उसके बाद मंत्रियों को उनके विभाग बांटे गए। इस प्रक्रिया में नई मोदी सरकार में जहां कुछ नए रिटायर्ड नौकरशाहों को सत्ता में शामिल किया गया तो कुछ को बाहर का रास्ता दिखाकर उनका पत्ता काट दिया गया। मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में भारतीय विदेश सेवा व आईएएस से सेवानिवृत्त अधिकारियों को जगह दी गई है।

 

पूर्व आईएफएस अधिकारी एस जयशंकर को मिला विदेश मंत्रालय

 

1977 बैच के आईएफएस अधिकारी एस जयशंकर पूर्व विदेश सचिव रह चुके हैं। पीएम मोदी ने जयशंकर को इस बार के कार्यकाल में महत्वपूर्ण विदेश मंत्रालय की कमान सौंपी है। जयशंकर को पूर्ण कैबिनेट रैंक मिली है। दूसरी ओर बात करें पूर्व राजनयिक हरदीप सिंह पुरी की तो हरदीप सिंह को भी इस बार सरकार में जगह दी गई है। हरदीप सिंह को शहरी विकास नवीकरण के अलावा नागरिक उड्डयन मंत्रालय की कमान सौंपी गई है। पुरी 1974 बैच के आईएफएस अधिकारी हैं। पुरी पहले भी आवास और शहरी मामलों के राज्य मंत्री के रूप में कार्यभार संभाल चुके हैं। मोदी ने अमृतसर से चुनाव हारने के बावजूद उन्हें फिर से शामिल किया है।

इसके अलावा इस बार की मोदी सरकार में दो पूर्व आईएएस अधिकारियों को राज्य मंत्री के रूप में भी जगह दी गई है। पूर्व गृह सचिव आर.के. सिंह ने राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) के रूप में शपथ ली है। इसके अलावा पूर्व आईएएस अधिकारी अर्जुन सिंह मेघवाल को मंत्री पद दिया गया है। बता दें कि अर्जुन मेघवाल पिछली मोदी सरकार में वित्त और सहकारी मामलों के मंत्री थे। राजस्थान के बीकानेर से उन्हें लगातार तीसरी बार लोकसभा का सदस्य चुना गया है इसी कारण से उन्हें मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है। पंजाब के दोआबा क्षेत्र से दो बार विधायक रह चुके पूर्व आईएएस अधिकारी सोम प्रकाश को राज्य मंत्री के रूप में सरकार में शामिल किया गया है। सोम पंजाब में भाजपा के प्रमुख दलित चेहरे के रूप में हैं। प्रकाश ने पार्टी में शामिल होने के लिए 2009 में सेवा से स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति मांगी थी।

 

इनको दिखा दिया बाहर का रास्ता

 

इस बार की सरकार मे जहां नए नौकरशाहों को जगह दी गई है तो वहीं पिछली मोदी सरकार के दो नौकरशाहों को हटा भी दिया गया है। इसमें के.जे. अल्फोंस और एक पूर्व आईएएस अधिकारी जो संस्कृति और पर्यटन मंत्रालय में मंत्री रहे और दूसरा सत्यपाल सिंह, एक पूर्व आईपीएस अधिकारी जो मानव संसाधन और विकास के राज्य मंत्री थे दोनों का नाम शामिल थे।

बता दें कि अल्फोंस लोकसभा चुनाव हार गए हैं, वे केरल के एर्नाकुलम निर्वाचन क्षेत्र से तीसरे स्थान पर रहे। इसके अलावा सत्यपाल सिंह ने जीत हासिल की है उन्होंने राष्ट्रीय लोकदल के जयंत चौधरी को उत्तर प्रदेश के बागपत से 23,502 मतों के अंतर से हराया है।

Tag In

#modi #PMMODI #अर्जुनसिंहमेघवाल #एस जयशंकर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *