narayan sai

नारायण साईं को उम्रकैद की सजा, 11 साल पुराने दुष्कर्म मामले में 26 अप्रैल को कोर्ट ने ठहराया था दोषी

न्यूज़ गैलरी,

ले पंगा न्यूज। देवेन्द्र कुमार। आसाराम के बेटे एवं कथावाचक नारायण साईं को सूरत की अदालत ने दुष्कर्म के मामले में मंगलवार को सजा सुनाई है। दुष्कर्म मामले के आरोपी नारायण साईँ को उम्र कैद की सजा सुनाई गई है। कोर्ट ने 26 अप्रैल को 11 साल पुराने मामले में नारायण साईं को दोषी ठहराया था। नारायण साईं इस मामले में पिछले 7 साल से सूरत की जेल में बंद है।

सूरत की दो बहनों ने लगाए थे आरोप

नारायण साईं पर सूरत की दो बहनों ने दुष्कर्म के आरोप लगाए थे। पीड़िता अपनी छोटी बहन के साथ आसाराम के अहमदाबाद मोटेरा आश्रम में रहती थी वे वहां पर अगरबत्ती बनाने का और अन्य कुटीर उद्योग का काम करती थी। पुलिस ने दोनों बहनों के आरोपों और उनके द्वारा पेश किए गए सबूतों के आधार पर केस दर्ज किया था। इस मामले में सूरत की सेशन कोर्ट ने शुक्रवार को फैसला सुनाया था।

गौरतलब है कि नारायण साईं और आसाराम के खिलाफ पिछले 11 साल से रेप का केस चल रहा है। पीडि़ता छोटी बहन ने अपने बयान में नारायण साईं के खिलाफ ठोस सबूत देते हुए हर लोकेशन की पहचान की है। जबकि बड़ी बहन ने आसाराम के खिलाफ मामला दर्ज करवाया था।

इस मामले की सुनवाई के दौरान 53 गवाहों ने कोर्ट में बयान दर्ज करवाए थे। इन 53 गवाओँ में से अधिकर गवाह ऐसे थे जिन्होंने बताया कि उन्होंने खुद नारायण साईं को युवतियों के साथ संबंध बनाते हुए देखा है। नारायण साईं पर केस दर्ज होने के बाद वह लापता हो गया था और आखिरकार 2013 में उसे हरियाणा-दिल्ली सीमा के पास से गिरफ्तार कर लिया गया था।

Tag In

#narayana sai #super court #SUPERMECOURT #SUPERMECOURTOF INDIA #supreme court #supreme court news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *