‘निपाह’ वायरस ने की भारत में एंट्री, इस जगह सामने आया पहला केस

न्यूज़ गैलरी,

ले पंगा न्यूज डेस्क, धीरज सैन। जानलेवा वायरस निपाह ने एक बार फिर से भारत में एंट्री कर ली है। जानलेवा निपाह वायरस का पहला केस हाल ही में केरल में सामने आया है। सूत्रों से मिल रही जानकारी के अनुसार कोच्चि के एर्नाकुलम का रहने वाला 23 साल का युवक पुणे के वायरोलॉजी इंस्टीट्यूट में हुए टेस्ट में पॉजिटिव पाया गया है।

इस खतरनाक और जानलेवा वायरस की पुष्टि राज्य की स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा ने की। उन्होंने कहा निपाह वायरस से ग्रस्त व्यक्ति की हाल ही में पुष्टि की गई है। इसी के साथ इस खबर की पुष्टि के बाद से ही सरकार ने एहतियात बरतनी शुरू कर दी थी।

साथ ही स्वास्थ्य मंत्री ने ये भी जानकारी दी कि जैसे ही इस जानलेवा वायरस की स्थिति का पता चला वैसे ही स्थिति का जायजा लिया और स्वास्थ्य मंत्रालय में अधिकारियों के साथ एक बैठक करी। बता दें कि अभी तक इस खतरनाक वायरस के शक में अस्सी से ज्यादा मामले आ चुके है।

इसी के साथ ही केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि मैंने केरल की स्वास्थ्य मंत्री से बात की और केंद्र से हर संभव मदद करने का आश्वासन दिया। साथ ही केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने केरल की जनता को सोशल मीडिया के जरिए संदेश दिया है कि आपको घबराने की कोई जरूरत नहीं है। केन्द्रीय मंत्री ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग हर प्रकार की कठिन परिस्थिति से लड़ने के लिए तैयार है।

बता दें कि 1998 में इस खतरनाक वायरस निपाह के बारे में पहली बार पता लगाया गया था। सबसे पहले इस वायरस का पता सुंगई निपाह गांव के लोग सबसे पहले संक्रमित हुए थे। उसके बाद से इस वायरस का नाम इस गांव निपाह के नाम पर ही रख दिया। एक रिपोर्ट के अनुसार ये वायरस पालतू जानवरों जैसे कुत्ते, बिल्ली, बकरी, घोड़े से फैलने का बताया गया है।

Tag In

#case #kerala #nipah #nipahvirus

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *