पत्नी ने पति के साथ की ऐसी हरकत की अब…

न्यूज़ गैलरी,

ले पंगा न्यूज डेस्क, चंदना पुरोहित। हाई कोर्ट ने तलाक के एक मामले में पति के पूरे पैसे पर कब्ज़ा करने को उत्पीड़न की श्रेणी में रखा है। कहानी यह है की दंपत्ति की शादी 2005 में हुई थी। पत्नी अपने ससुराल वालों पर दहेज़ की मांग का आरोप लगा चूकी है। पत्नी ने आरोप लगाया था की ससुराल वाले उस से 100 गज जमीन की मांग करते थे।

पति ने तलाक की याचिका दाखल की आरोप लगाया की उन की शादी 2005 में हुई। पत्नी शादी करके आई तभी से उसका रवैय्या घर वालों के प्रति ठीक नहीं था। पति का आरोप है की पत्नी आते ही घर की पूरी जायदाद अपने नाम करवाना चाहती थी। दंपत्ति के 3 बच्चे हैं।  कोर्ट ने यह माना है की, पति का यह कहना सही है की पत्नी यह चाहती है की पति रोजाना उस से 50 रुपए ले जाए और बाकी सारा वेतन उसे दे। पति और उस के घर वाले पहले भी दहेज़ उत्पीड़न के आरोप से बरी हो चुके हैं। पहले भी दहेज़ उत्पीड़न के आरोप से बरी होने के कारण कोर्ट ने महिला की दहेज़ उत्पीड़न की दलील मानने से मना कर दिया।

कोर्ट ने माना की, पत्नी के उत्पीड़न से पति डरा हुआ था। मुकदमो के डर से वह सब कुछ सहता रहा। परिवार की सुरक्षा उसकी जिम्मेदारी थी। पति को परेशान करने में पत्नी 2005 से 2010 तक सफल रहा। इसलिए हाई कोर्ट ने फैमिली कोर्ट के तलाक़ देने के फैसले में हस्तक्षेप करने से मना कर दिया।

Tag In

# हाई_कोर्ट #पति #पत्नी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *