परमाणु युद्ध की धमकी पाकिस्तान की रणनीतिक हथियारों की अनुचित समझ को दर्शाता है: आर्मी चीफ

न्यूज़ गैलरी,

ले पंगा न्यूज डेस्क, चंदना पुरोहित। भारत की सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक के बाद बताया जा रहा है की पाकिस्तान फिर एक बार बड़ी घुसपैठ कर एक बड़ी आतंकवादी गतिविधि की फ़िराक़ में है, इस बारें में जब आर्मी चीफ बिपिन रावत से बात की गई तो उन्होंने पाकिस्तान को एक नासमझ देश बताया। उन्होंने कहा की पाकिस्तान को किसी भी तरीके से कश्मीर के हालातों का दुरुपयोग नहीं करने देंगे, अगर जरुरत पड़ी तो पीओके में घुसकर मारेंगे। उन्होंने कहा की हमने जब सर्जिकल स्ट्राइक की तब यह साफ था की हम कभी एलओसी पहले पार नहीं करेंगे जब तक दूसरी और शांति का माहौल है, मगर जब पाकिस्तान की तरफ से आतंकवादी घुसपैठ होती है तब वह पाकिस्तान के प्रतिनिधी की तरह काम करते हैं। यह लुकाछुपी का खेल ज्यादा दिन नहीं चलेगा।

पाकिस्तान द्वारा बार बार परमाणु युद्ध की धमकी पर जनरल बिपिन रावत ने कहा की परमाणु बम निवारण का हथियार है, इसे परंपरागत युद्ध में इस्तेमाल कैसे किया जा सकता है। पाकिस्तान ऐसा कैसे कह सकता है की वह परंपरागत युद्ध में या उस पर हमले के बाद परमाणु हथियार के तौर पर इस्तेमाल कर सकता है। क्या अन्तर्राष्ट्रीय समुदाय पाकिस्तान को इस बात की इजाजत देगा। परमाणु हथियार का इस्तेमाल करने की बात कहकर पाकिस्तान अपनी रणनीतिक हथियारों के मामले में अनुचित समझ को दर्शाता है।

कश्मीर के हालात पर बिपिन रावत ने उन लोगो से सवाल किया जो लोग कहते हैं की कश्मीर में हालात ठीक नहीं है। उन्होंने कहा अगर अभी कश्मीर में हालात ठीक नहीं है तो क्या पिछले 30 वर्षों से कश्मीर में हालत सही थे? बल्कि पिछले 2 महीनों में कश्मीर के हालात सही हुए हैं। उन्होंने कहा की कश्मीर मतलब सिर्फ घाटी नहीं है वहाँ अन्य लोग भी रहते हैं। घाटी के लोगो ने 30 साल से जो देखा है उसे बदलने और शान्ति बहाल करने के लिए उन्हें थोड़ा वक़्त देना चाहिए।

Tag In

#ArmychiefBipinRawat #bipinrawat #pak loc

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *