पाक में ​अब बिरयानी का मजा हुआ किरकिया, रिकॉर्ड भाव पर टमाटर

न्यूज़ गैलरी,

ले पंगा न्यूज डेस्क, पुष्पेंद्रसिंह भाटी। मोदी सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 को हटाने के बाद पाकिस्तान बौखला गया है. इसी बौख़लाहट के कारण पाकिस्तान ने भारत के साथ कारोबार बंद कर दिया था. पाकिस्तान की यह गलती खुद पर ही भारी पड़ रही है. भारत से निर्यात किए जाने वाले समानों पर पूरी तरह रोक लगाए जाने के बाद पाकिस्तान में टमाटर के दामों में आग लग गई है और कीमत 300 रुपये प्रति किलो तक पहुंच चुका है. टमाटर के दामों में अचानक बढ़ोतरी से पाकिस्तान के लोग सकते में हैं और पहले से ही महंगाई से जूझ रहे लोगों के लिए 300 रुपये किलो टमाटर खरीदना उनकी कमर टूटने जैसी स्थिति है.

टमाटर के दामों में इस कदर इजाफे से साफ हो गया है कि प्रधानमंत्री इमरान खान के भारत से कारोबार खत्म करने के फैसले का नुकसान सीधे तौर पर पाकिस्तान के आम लोगो को ही उठाना होगा. दरअसल, भारत की तरह से रोजाना हरी सब्जियों और खासतौर पर टमाटर की एक बड़ी खेप पाकिस्तान भेजी जाती थी जिस वजह से वहां सब्जियों और टमाटर के दाम नियंत्रित रहते थे. लेकिन पाकिस्तान सरकार के कारोबार रोकने के फैसले के बाद अब भारत से टमाटर की सप्लाई खत्म हो गई है जिससे वहां टमाटर के दाम आसमान छूने लगे हैं.

वहीं पाकिस्तान इस फैसले को लेकर भारतीय ट्रक ऑपरेटरों ने कहा, ‘अगर पाकिस्तान को ये लगता है कि व्यापार बंद करने से नुकसान भारत और अटारी बॉर्डर पर किसानों, ट्रक ऑपरेटरों और अन्य व्यापारियों का होगा तो ये उनकी मूर्खता है क्योंकि पाकिस्तान में सब्जियों के दाम अब आउट ऑफ कंट्रोल हो जाएंगे और हाहाकार मच जाएगा.’

जम्मू-कश्मीर को लेकर भारत की तरफ से लिए गए फैसले से पाकिस्तान इस कदर हताश है कि वो भारत को आर्थिक और सामरिक तौर पर नुकसान पहुंचाने की चाह में एक के बाद एक ऐसे फैसले ले रहा है जिससे वो खुद बर्बाद हो रहा है. पाकिस्तान की सरकार ने पहले समझौता एक्सप्रेस को रद्द किया और उसके बाद दिल्ली-लाहौर बस सेवा को स्थगित भी कर दिया.

Tag In

# जम्मू_कश्मीर #टमाटर #पाकिस्तान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *