भारत ने विदेश में दर्ज की रनों के लिहाज से सबसे बड़ी जीत, विराट ने माही के इस रिकॉर्ड की बराबरी

स्पोर्ट्स,

ले पंगा न्यूज डेस्क, धीरज सैन। विराट एंड कंपनी ने दो टेस्ट मैचों की सीरीज में मेजबान वेस्टइंडीजन को विशाल अंतर 318 रन से रौंद कर टेस्ट सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है। पहले टेस्ट मैच में अजिंक्या रहाणे 102, हनुमा विहारी 93 रन और गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की घातक गेंदबाजी 5 (विकेट) के बदौलत भारत ने पहला टेस्ट मैच आसानी से जीत लिया।

गौरतलब हैं कि भारत द्वारा मिले 419 रन के बेहद मुश्किल लक्ष्य के सामने दूसरी पारी में वेस्टइंडीज के बल्लेबाज पूरी तरह से लड़खड़ा किए और अपनी दूसरी पारी में चौथे दिन चायकाल के बाद 26.5 ओवर में 100 रन पर ढेर हो गई।

बता दें कि रनों के लिहाज से टीम इंडिया की विदेशी धरती पर यह सबसे बड़ी जीत है। इसी के साथ भारत ने विदेशी धरती पर इतिहास रचने में कायमाबी हासिल की। साथ ही पहले टेस्ट मैच में टीम के कप्तान विराट कोहली ने इतिहास रचने में कामयाबी हासिल की। कोहली सबसे ज्यादा टेस्ट मैच जीतने वाले पहले भारतीय कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी की बराबरी पर पहुंच गए है। कोहली ने भारतीय टीम के कप्तान के तौर पर 47 मैचों में 27 जीत दर्ज कर ली है, जबकि धोनी के नाम 60 मैचों में इतनी जीत हैं। साथ ही कोहली विदेशी धरती पर सबसे सफल टेस्ट कप्तान भी बन गए हैं।

साथ ही कप्तान विराट कोहली ने विदेशी धरती पर सबसे ज्यादा टेस्ट मैच जीतने के पूर्व कप्तान सौरभ गांगुली के रिकॉर्ड तोड़ दिया है।

Tag In

#ind_vs_india #India #westindies

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *