साध्वी

भोपाल से भाजपा प्रत्याशी साध्वी को मिला चुनाव आयोग का नोटिस

लोकसभा 2019,

ले पंगा न्यूज। देवेन्द्र कुमार। लोकसभा चुनावों में विवादित बयानों की गंगा लगातार बह रही है। 2019 के आम चुनावों के दौरान कई सारे नेता विवादित बयानों की इस गंगा में स्नान कर चुके हैं और कई कतार में हैं स्नान करने का सिलसिला जारी है। अभी हाल ही में विवादों की गंगा में नहाने के लिए कतार में खड़ी भोपाल लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर का नंबर आया है। साध्वी ने शहीद हेमंत करकरे को लेकर विवादित बयान दिया था। जिस पर कार्रवाई करते हुए उनके विवादित बयान को आयोग ने आचार संहिता का उल्लंघन माना है। इसी के आधार पर भोपाल कलेक्टर और जिला चुनाव आयोग ने साध्वी को नोटिस भेजा है।

जनिए क्या कहा था साध्वी प्रज्ञा ने?

2008 के मालेगांव विस्फोट मामले में आरोपी रही और फिलहाल भोपाल सीट से बीजेपी प्रत्याशी साध्वी से चुनाव आयोग ने उनके बयान पर 24 घंटे के अंदर जवाब मांगा है। आयोग का कहना है कि लोकसभा चुनाव के दौरान बतौर बीजेपी प्रत्याशी साध्वी द्वारा दिया गया बयान आचार संहिता का उल्लंघन है। उल्लेखनीय है कि भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने शहीद करकरे के बारे में कहा था कि ‘मुंबई एटीएस के प्रमुख करकरे को कर्मों का फल मिला’ है। भोपाल के कोलार में शुक्रवार को उन्होंने कहा कि उन दिनों वह मुंबई जेल में थीं। प्रज्ञा ने अब बयान दिया था कि उस समय जांच के लिए की जा रही पूछताछ में मैंने करकरे से कहा था कि तेरा सर्वनाश होगा, उसी दिन से उस पर सूतक लग गया था और सवा माह के भीतर ही आतंकवादियों ने उसे मार दिया था। इसके बाद इनके बयान को लेकर मामले ने तूल पकड़ लिया। विवाद अधिक बढ़ने पर शुक्रवार को साध्वी प्रज्ञा ने माफी मांगते हुए कहा था कि जो मैंने कहा था वह मेरी व्यक्तिगत पीड़ा थी, जो मैंने सुनाई थी। मेरे बयान से किसी को ठेस पहुंची है तो मैं अपना बयान वापस लेती हूं, और माफी मांगती हूं।

Tag In

#Loksabha Elections 2019 #loksabha-chunav #loksabha-saabha-chunav #loksabhachunav2019 #sadhvi pragya loksabha-2019

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *