महबूबा मुफ्ती ने कहा धारा 370 ख़त्म की भारत से रिश्ते तोड लेगा J&K

लोकसभा 2019,

धारा 370 को लेकर महबूबा मुफ्ती ने विवादित बयान दिया है. उनका कहना है कि अगर इसे खत्म किया गया, धमकी भरे लहजे में उन्होंने कहा की इसके परिणाम ठीक नहीं होंगे. वह जम्मू-कश्मीर की विलय संधि खत्म करने की डेडलाइन दे रही हैं. इससे पहले भी वह भारत से संबंध खत्म करने की धमकी दे चुकी हैं.महबूबा ने बुधवार को जम्मू कश्मीर के अनंतनाग से अपना नामांकन दाखिल किया. उसके बाद उन्होंने ये बयान जारी किया. महबूबा मुफ्ती ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को चुनौती देते हुए कहा था कि धारा 370 और 35ए को हटाने का सपना ना देखें. और ऐसा हुआ, तो जम्मू कश्मीर भारत का हिस्सा नहीं रहेगा.पीडीपी प्रमुख से पहले नेशनल कॉफ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला भी राज्य को लेकर विवादास्पद बयान दे चुके हैं. उन्होंने कहा था कि एक देश में दो प्रधानमंत्री की व्यवस्था को लागू करेंगे. जम्मू कश्मीर के लिए अलग पीएम होगा.

उन्होंने कहा कि अगर संवैधानिक प्रावधान को हटाया गया, तो उनके साथ-साथ मुख्य धारा के नेताओं को आगे के कदम पर फिर से विचार करना होगा.

मुफ्ती ने कहा, “अगर आप इस पुल को तोड़ते हैं, तो महबूबा मुफ्ती जैसे मुख्यधारा के नेताओं, जो भारत के संविधान और जम्मू कश्मीर के संविधान की शपथ लेते हैं, उन्हें हमारे आगे के कदमों पर फिर से विचार करना होगा, क्योंकि हमने भारत के झंडे का समर्थन किया है और अगर (अनुच्छेद) 370 को छुएंगे, तो यह झंडा हमारे हाथों या हमारे कंधों पर नहीं रहेगा.”महबूबा ने एक ट्वीट में कहा कि अगर लोगों के लिए खड़ा होना उन्हें अलगाववादी और देश विरोधी बनाता है तो वह गर्व के साथ स्वीकार करती हैं.उन्होंने कहा, ‘‘ऐसा नया भारत अस्वीकार्य है जहां धर्म के नाम पर पीट-पीटकर लोगों की हत्या करनेवालों को माला पहनाया जाता है और उनका सम्मान किया जाता है. अगर अपने लोगों के लिए खड़ा होना मुझे अलगाववादी और देश विरोधी बनाता है तो इसे मैं गर्व के साथ स्वीकार करूंगी.’’दरअसल नेशनल कांफ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला द्वारा जम्मू-कश्मीर में प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति पद की फिर से मांग किए जाने के बाद जेटली ने सोमवार को कहा था कि उनका यह बयान ‘अलगाववादी मानसिकता’ पैदा करता है और नए भारत में किसी भी सरकार को इस तरह की गलती करने की इजाजत नहीं दी जाएगी.

Tag In

##MEHBUBA MUFTI #DHARA370 #jammu & kashmir amit shah

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *