मोदी को एयर-स्ट्राइक के नाम पर वोट मांगना भारी पड़ सकता है

लोकसभा 2019,

प्रवीण कुमार। ले पंगा
महाराष्ट्र के लातूर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चुनाव प्रचारों में पुलवामा आतंकी हमला और बालाकोट एयर स्ट्राइक का जिक्र करना महंगा पड़ गया है, उस्मानाबाद जिला चुनाव अधिकारी ने महाराष्ट्र के मुख्य निर्वाचन अधिकारी को सौंपी अपनी रिपोर्ट में प्रधानमंत्री के भाषण को सशस्त्र बलों के शौर्य को चुनाव लाभ लेने वाला बताया है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लातूर की अपनी रैली में पहली मर्तबा वोट डालने वाले मतदाताओं से पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए और बालाकोट एयर स्ट्राइक को अंजाम देने वाले जवानों के नाम पर मतदान करने की अपील की थी, पीएम मोदी की अपील को चुनाव आयोग ने आचार संहिता का उल्लंघन मानते हुए चुनाव लाभ लेने वाला बताया है।

सूत्रों के मुताबिक महारष्ट्र के मुख्य चुनाव अधिकारी कार्यालय ने डीईओ की रिपोर्ट चुनाव आयोग को भेजी है । ऐसे में चुनाव आयोग भी पीएम मोदी के इस भाषण को चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन मानता है, तो मोदी प्रधानमंत्री रहते हुए पहली बार आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के लिए अपनी टिप्पणी के बारे में सफाई देंगे।

उल्लेखनीय है की चुनाव आयोग लोकसभा चुनाव ने तारीखों के ऐलान करते वक्त ही राजनीतिक दलों को एक एडवाइजरी जारी की थी, जिसके अनुसार चुनाव प्रचार में सेना के जवानों और उनसे जुड़े फोटोग्राफ का इस्तेमाल न किया जाये यहां तक की 19 मार्च को भी चुनाव आयोग ने सभी राजनीतिक दलों को पत्र लिखकर यह निर्देश दिया था कि वे अपने नेताओं से चुनाव प्रचार के दौरान सुरक्षाबलों और उनकी गतिविधियों का इस्तेमाल नहीं करने के लिए कहें। इस पोजीशन में प्रथम दृष्टया पीएम मोदी का भाषण इस एडवाइजरी का सरासर उल्लंघन माना जा रहा है।

मंगलवार को पीए मोदी ने लातूर की रैली कहा था, “मैं जरा कहना चाहता हूं मेरे फर्स्ट टाइम वोटरों को। आपका पहला वोट पाकिस्तान के बालाकोट में एयर-स्ट्राइक करने वाले वीर जवानों के नाम समर्पित हो सकता है क्या? मैं मेरे फर्स्ट-टाइम वोटर से कहना चाहता हूं कि आपका पहला वोट पुलवामा में जो वीर शहीद हुए हैं उन वीर शहीदों के नाम आपका वोट समर्पित हो सकता है क्या?” उनके इस बयान को विपक्षी दलों ने आचार संहिता का उल्लंघन बताते हुए चुनाव आयोग से शिकायत भी की थी।

Tag In

#chunav aayog #congress 2019 #lkoshba 2019 #modi-rally bjp pm narendra modi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *