राजस्थान में गर्मी के बाद सरकार पर आयी अब यह एक और दुविधा

न्यूज़ गैलरी,

ले पंगा न्यूज़, मोनिका सोनी। राजस्थान सरकार गर्मी के साथ अभी एक और दुविधा में फंसा हुआ है। राजस्थान में होटलों में लगातार बढ़ते घाटों ने राजस्थान टूरिज्म डवलपमेंट कोरपोरेशन को दुविधा में डाल दिया है। राजस्थान सरकार ने इस घाटे से उभरने के लिए होटलों को बेचने का फैसला लिया था।

ख़बरों के मुताबिक, भाजपा सरकार के कार्यकाल में आरटीडीसी ने 15 होटलों को बेचने का फैसला लिया था लेकिन जब बेचने के लिए तय किये होटलों के मालिकाना हक़ को खगोला तो पाया कि कई होटलों के मालिकाना हक़ दूसरे विभागों के पास में हैं जिसके चलते आरटीडीसी ने अपना फैसला बदलने पर विचार किया और अब कांग्रेस सरकार के कार्यकाल शुरू होते ही आरटीडीसी ने होटलों को बेचने की बजाय लीज पर देने का फैसला लिया है। हालाँकि इसके प्रस्ताव को कैबिनेट इस पर काम होना शुरू होगा।

बता दें कि प्रदेश में प्रयटकों की संख्या भले ही हर साल बढ़ रही है मग़र आरटीडीसी को इस से कोई फायदा नहीं हो रहा है। प्रदेश में आरटीडीसी के 75 होटल में से सिर्फ 28 होटल ही संचालित हो रहे है जबकि आरटीडीसी के 30 होटल ऐसे हैं जहाँ एक भी दिन यह चल ही नही पाए हैं। वहीँ सरकार ने आरटीडीसी को सँभालने के लिए प्रशासनिक अधिकारी तो बैठा दिए मगर उनका मोटा वेतन ही आरटीडीसी को अब भारी पड़ रहा है। जिसके चलते आरटीडीसी के कई कर्मचारियों को चार महीनो से अधिक समय से वेतन नहीं मिल पाया है। वहीँ कुछ कर्मचारियों को दो तीन महीने से वेतन दिया जा रहा है।

Tag In

#LATESTNEWS #rtdc #आरटीडीसी #राजस्थान_सरकार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *