कांग्रेस के नवजोत सिंह सिद्धू और बीजेपी के सतपाल सिंह सत्ती

लोकसभा चुनाव के दरमियान विवादित बयान देने वाले नेताओं में कांग्रेस के नवजोत सिंह सिद्धू और बीजेपी के सतपाल सिंह सत्ती का नाम शामिल, प्राथमिकी दर्ज

लोकसभा 2019,

ले पंगा न्यूज। देवेन्द्र कुमार। लोकसभा चुनाव के दौरान विवादित बयानों का दौर जारी है। हाल ही के राजनीतिक वातावरण को देखकर तो लगता है कि नेताओं में सांसद बनने से ज्यादा विवादित बयान देने की होड़ मची हुई है। इससे तो यहीं लगता है कि नेता विवादित बयानों को लेकर चर्चा में बने रहना चाहते हैं। विवादित बयान देने वाले नेताओं की कड़ी में अब पंजाब सरकार में कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू और हिमाचल प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती का नाम भी शामिल हो गया। पंजाब की कांग्रेस सरकार में कैबिनेट मंत्री सिद्धू के खिलाफ मंगलवार को प्राथमिकी दर्ज की गई। एक चुनावी सभा को संबोधित करने के दौरान विवादित भाषण देने के मामले में उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है।

अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी संजय कुमार सिंह ने बताया कि फ्लाइंग स्क्वाड टीम ने बारसोई थाना में इस मामले में प्राथमिकी दर्ज कराई है। सिंह ने बताया कि मामले में आवश्यक कार्रवाई के लिए चुनाव आयोग को रिपोर्ट भेज दी गई है। सिद्धू ने कटिहार में विपक्षी महागठबंधन से कांग्रेस के प्रत्याशी तारिक अनवर के लिए चुनावी सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए विवादित बयान दिया था।
सिद्धू ने कहा था, ‘यहां जात-पांत में बांटने की राजनीति हो रही है। मैं अपने मुस्लिम भाइयों को अपनी बात कहने आया हूं. ये एक ऐसी सीट है जहां आप अल्पसंख्यक नहीं बहुसंख्यक हो। भाजपा के षड्यंत्रकारी लोग आपको रोकने का प्रयास करेंगे। आपके वोट को बांटने का प्रयास करेंगे। आप इकठ्ठे रहे तो कांग्रेस को दुनिया की कोई ताकत हरा नहीं सकेगी। मैं आपको चेतावनी देने आया हूं मुस्लिम भाइयों, ये आपको बांट रहे हैं। ये यहां ओवैसी जैसे लोगों को लाकर, एक नई पार्टी साथ में खड़ी कर आप लोगों का वोट बांट के जीतना चाहते हैं. अगर तुम लोग इकट्ठे हुए, एकजुट होकर वोट डाला तो मोदी हार जाएगा।’ सिद्धू के इस बयान का इशारा कटिहार के पास किशनगंज लोकसभा सीट से असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम ने अपना उम्मीदवार की ओर था।

भाजपा अध्यक्ष सतपाल को मिला नोटिस

दूसरी ओर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ कथित तौर पर अपशब्दों बोलने पर हिमाचल प्रदेश निर्वाचन कार्यालय ने मंगलवार को प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती को नोटिस जारी किया। हिमाचल राज्य की बद्दी पुलिस ने सत्ती के खिलाफ मामला दर्ज किया है। यह मामला भारतीय दंड संहिता की धारा 294 (अश्लील हरकत) के तहत दर्ज किया गया है। बता दें कि आयोग सत्तारूढ़ दल के नेता की जीभ काट लेने की धमकी के मामले की भी जांच कर रहा है.

राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी देवेश कुमार ने बताया कि, ‘सत्ती को सोलन जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के लिए नोटिस थमाया गया है और उनसे नोटिस मिलने के 24 घंटे के भीतर जवाब तलब किया गया है।’ मुख्य निर्वाचन अधिकारी देवेश ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग ने सत्ती की कथित अपमानजनक टिप्पणी पर संज्ञान लिया है। इसके अलावा भाजपा की ओर से पुलिस शिकायत मिली है कि कांग्रेस समर्थक विनय शर्मा ने सतपाल सत्ती की जबान काटने पर 10 लाख रुपये का इनाम देने की धमकी थी है। पुलिस इसकी भी जांच कर रही है।

Tag In

#congress 2019 #congress loksabha #ec #loksabhachunav2019 #कांग्रेस के नवजोत सिंह सिद्धू #बीजेपी के सतपाल सिंह सत्ती bjp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *