rad

लोकसभा चुनाव 2019: क्या इस बार भी निशाना सटीक बैठेगा राज्यवर्धन सिंह का

लोकसभा 2019,

ले पंगा न्यूज डेस्क, प्रीति दादूपंथी। राजस्थान की 25 लोकसभा सीटों के लिए मिशन 25 लेकर चल रही कांग्रेस को 15 साल से चली आ रही चुनावी परंपरा का फायदा मिलने की आस है। माना यह जाता रहा है कि राज्य में जिस पार्टी की सरकार होती है, उसी को ही लोकसभा चुनाव में जीत मिलती है। साल 2014 में ये सभी सीटें भाजपा के खाते में गई थी। राज्य में एक बार कांग्रेस और एक बार भाजपा की सरकार बनने की ‘परंपरा’ रही है, इस बार भी यही कयास लगाए जा रहे है। इस बार हम बात कर रहे है राजस्थान की राजधानी जयपुर ग्रामीण सीट की, इस सीट से ओलंपियन और सेना में अधिकारी रहे कर्नल राज्यवर्धन सिंह राठौड़ सांसद है।

आपको बता दें कि पिछली बार 2014 में मोदी लहर के चलते विधानसभा चुनाव में भारी बहुमत से जीतने वाली भाजपा ने लोकसभा चुनाव की सभी सीटों पर जीत हासिल की थी। मगर 2018 में हुए उपचुनाव में कांग्रेस ने अलवर और अजमेर सीट पर कब्जा कर लिया था। हाल में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने राज्य में वापसी की है तो वहीं भाजपा विपक्ष में बैठने को मजबूर है। 2014 में राजस्थान चरम पर रही भाजपा की इस बार राह उतनी आसान नहीं है। जयपुर ग्रामीण लोकसभा सीट पर भी कमोबेश ऐसे ही हालात है।

पैराशूट उम्मीदवार थे राज्यवर्धन सिंह

साल 2014 में बीजेपी ने इस सीट से पूर्व ओलंपियन और सेना में अधिकारी रहे कर्नल राज्यवर्धन राठौड़ को टिकट देकर सबको चौंका दिया था। पैराशूट उम्मीदवार होने के कारण शुरू में राठौड़ को स्थानीय बीजेपी नेता सतीश पूनिया और राव राजेंद्र सिंह के विरोध का सामना करना पड़ा, मगर मोदी लहर के आगे यह विरोध काफूर हो गया। पैराशूट उम्मीदार होने के बावजूद भी राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने कांग्रेस के दिग्गज नेता सीपी जोशी, आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी अनिल कुमार और सपा के प्रत्याशी धीरज गुर्जर को मात दी थी।

मतदाताओं की संख्या

जयपुर ग्रामीण लोकसभा सीट पर साल 2014 के समय कुल मतदाताओं की संख्या 17 लाख 307 थी। इस दौरान इस सीट से 12 प्रत्याशी मैदान में उतरे थे। जिसमें से बीजेपी नेता राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने अपने दमदार प्रदर्शन के दम पर 6 लाख 32 हजार 930 वोट पाकर धमाकेदार जीत मिली थी। वहीं कांग्रेस के प्रत्याशी सीपी जोशी के खाते में 3 लाख 34 वोट मिले।

जीत का प्रतिशत

इस बीच प्रतिशत के अनुसार जयपुर ग्रामीण लोकसभा सीट के नतीजे को देखे, तो उसमें भाजपा 62.68 प्रतिशत वोट के साथ विजयी रही। वहीं दूसरी ओर कांग्रेस को 29.52 प्रतिशत मत वोट मिले थे। तो आम आदमी पार्टी को 0.68 प्रतिशत वोट और समाजवादी पार्टी (सपा) को मात्र 0.14 फीसदी वोट ही मिले थे।

Tag In

#अनिल कुमार #धीरज गुर्जर #नरेन्द्रमोदी #पीएम मोदी #मोदी लहर #राज्यवर्धन सिंह #राज्यवर्धन सिंह राठौड़ #सीपी जोशी कांग्रेस बीजेपी लोकसभा चुनाव 2019

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *