विश्वप्रसिद्ध जगन्नाथ रथ यात्रा का हुआ शुभारंभ, राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने दी बधाई

न्यूज़ गैलरी,

ले पंगा न्यूज डेस्क, अशोक योगी। ओडिशा के पुरी में आज से विश्वप्रसिद्ध जगन्नाथ रथ यात्रा का शुभारंभ हो रहा है। यह रथ यात्रा 9 दिनों तक चलेगी, जिसमें भगवान जगन्नाथ अपने भाई बलराम और बहन सुभद्रा के साथ जगन्नाथ मंदिर से निकलकर गुंडीचा मंदिर जाएंगे। वहां सात दिनों तक विश्राम के बाद वे वापस अपने धाम जगन्नाथ पुरी में लौट आएंगे। इस यात्रा में तीन विशाल रथ होते हैं, जिसे भगवान के भक्त खींचते हैं।

पुरी में रथयात्रा के लिए लाखों श्रद्धालुओं का जनसमूह ‘बड़ दांड'(ग्रैंड रोड) पर उमड़ चुका है। श्रद्धालु रथ पर अपने भगवान श्रीजगन्नाथ, बलभद्र एवं देवी सुभद्रा की झलक पाने के लिए पहुंच रहे हैं।
इससे पहले सुबह छह बजे मइलम नीति, 6:10 बजे तडपलागी नीति एवं 6.30 बजे रोष होम किया गया। इसके बाद सुबह नौ बजे से पहंडी बिजे की प्रक्रिया जारी है। दोपहर दो बजे पुरी के गजपति महाराज दिव्यसिंह देव रथ पर छेरा पहंरा करने का कार्यक्रम है। इसके बाद रथों को खींचने की प्रक्रिया शुरू होगी। सबसे पहले बलभद्रजी का रथ, इसके बाद देवी सुभद्रा फिर सबसे अंत में श्रीजगन्नाथ जी के रथ को खींचा जाएगा। शाम तक तीनों रथ मौसी मां मंदिर तक पहुंचने का लक्ष्य रखा गया है।

राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने रथ यात्रा पर दी बधाई

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रथयात्रा के शुभ अवसर पर देशवासियों को बधाई दी।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अपने संदेश में कहा, ‘रथ यात्रा के शुभ अवसर पर सभी देशवासियों को बधाई और शुभकामनाएं। मैं कामना करता हूं कि भगवान जगन्नाथ के आशीर्वाद से सभी के जीवन में सुख, शांति और समृद्धि आए।’

उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने कहा, ‘रथ यात्रा के उल्लासमय अवसर पर मैं देशवासियों को शुभकामनाएं देता हूं। भगवान श्री कृष्ण विभिन्न रूपों में, विभिन्न लीलाओं में भारतीय जनमानस में बसे हैं।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा, ‘रथ यात्रा के विशेष मौके पर सभी को शुभकामनाएं। हम भगवान जगन्नाथ से सभी के अच्छे स्वास्थ्य, सुख और समृद्धि के लिए उनका आशीर्वाद चाहते हैं। जय जगन्नाथ।’

Tag In

#Jagannath_temple #jagannath_yatra #Odisha #yatra #जगन्नाथ_रथ_यात्रा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *