savtri

विश्व महिला दिवस खास : देश की सबसे रिच महिला सावित्री जिंदल

न्यूज़ गैलरी,

ले पंगा न्यूज़ डेस्क, प्रियंका शर्मा । आज अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस है और यह दिवस कोई सामान्य दिवस नहीं बल्कि, विश्व की हर नारी के प्रति अपने सम्मान को जाहिर करने का भी एक खास दिन है .जी हाँ, बॉलीवुड में कुछ साल पहले एक सुपरहिट फिल्म दंगल आयी थी.जिसका एक फेमस डायलॉग ‘म्हारी छोरिया,छोरो से कम हैं कै’ इस खास अवसर पर बखूबी चरितार्थ होता है, आपने दुनिया के सबसे अमीर पुरुषों के बारे में तो सुना ही है पर हम आपको भारत की सबसे अमीर महिला के बारे में बता रहे जिसकी कुल संपत्ति 4,62,88,11,00,000 रुपये है. जैसा कि हम सभी जानते ही है कि, अब महिलाएं हर क्षेत्र में लगातार तरक्की कर रही हैं और इससे उद्योग जगत भी अछूता नहीं रहा है.

आज महिलाएं कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी हैं पुरूषों के साथ

व्यापार हो या कोई भी सेक्टर महिलाओं ने प्रगति ही की है और पुरुषों के साथ कंधे से कन्धा मिलाकर खड़ी हैं. ऐसे में आज हम बात करेंगे भारत की सबसे अमीर महिला की, जिन्होंने व्यापार जगत में खास कीर्तिमान हासिल किया है. इस अमीर महिला का नाम सावित्री जिंदल है और सावित्री जिंदल ‘जिंदल ग्रुप’ की कंपनी है. जिंदल ग्रुप स्टील, पॉवर, सीमेंट और इंफ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में काम कर रहा है. वह दिवंगत उद्ममी ओम प्रकाश जिंदल की पत्नी हैं और जाने-माने उद्योगपतियों सज्जन और नवीन जिंदल की मां हैं.

स्टील जगल में बड़ा नाम है जिंदल ग्रुप

साल 2005 में ओपी जिंदल का हेलीकॉप्टर दुर्घटना में निधन होने के बाद जिंदल ग्रुप की कंपनियों को उनके 4 बेटों में बांटा गया था और वो स्वतंत्र रूप से उन्हें चलाते हैं. इस ग्रुप की सबसे बड़ी संपत्ति की देखरेख उनके बेटे सज्जन जिंदल करते हैं, जिनके अधीन जेएसडब्ल्यू स्टील है. ओम प्रकाश जिंदल भारत के इस्पात उद्योग के एक बड़े कारोबारी और राजनीतिज्ञ थे. 68 साल की सावित्री जिंदल ने राजनीति में भी अपना हाथ आजमाया है. वह हरियाणा सरकार में विधायक और मंत्री रह चुकी हैं.

गौरतलब है कि सावित्री जिंदल एंड फैमिली दुनिया के अरबपतियों की सूची में 290वें स्थान पर है. वहीं भारत के सबसे अमीर शख्सियत की लिस्ट में सावित्री जिंदल का नाम 14वें स्थान पर आता है. सावित्री जिंदल की कुल संपत्ति 6.6 अरब डॉलर (7 मार्च 2018) है. भारतीय रुपये में आज के मुताबिक उनकी संपत्ति 4,62,88,11,00,000.00 रुपये है.

Tag In

# 'म्हारी छोरिया #अंतरराष्ट्रीय महिला #ओपी जिंदल #ओम प्रकाश जिंदल #सावित्री जिंदल छोरो से कम हैं कै

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *