शहीद के शव के साथ सेल्फी लेने वाले केन्द्रीय राज्यमंत्री अल्फांसो

एयर स्ट्राइक,

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में 49 शहीद जवानों को लेकर पूरा देश गम में डूबा हुआ है। देश के अलग-अलग हिस्सों में शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए लोगों का हुजूम उमड़ रहा है। इसी बीच श्रद्धांजलि देने पहुंचे बीजेपी के केन्द्रीय राज्यमंत्री अल्फांसो की एक ऐसी तस्वीर सामने आई है जिसको लेकर सोशल मीडिया पर लोगों ने जमकर खिंचाई की है। दरअसल केन्द्रीय राज्यमंत्री अल्फांसो काननथानम पुलवामा हमले में शहीद हुए केरल के जवान वसंत कुमार वीवी को श्रद्धांजलि देने पहुंचे थे। जिसमें वह शहीद जवान के ताबूत के साथ सेल्फी लेते नजर आ रहे हैं। केन्द्रीय मंत्री की इस तस्वीर के सोशल मीडिया पर आते ही लोगों ने इस असंवेदनशील रवैये की आलोचना शुरु कर दी है।

एक यूजर ने ट्वीट करते हुए लिखा, “सर, आपको सेल्फी के लिए बेहतर क्वालिटी का कैमरा इस्तेमाल करना चाहिए था क्योंकि इसमें आपके चेहरे पर शर्म नहीं दिखाई दे रही है।”

सोशल मीडिया पर ट्रोल होने के बाद केन्द्रीय मंत्री अल्फांसो काननथानम ने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि उन्होंने सेल्फी नहीं ली थी। अल्फांसो काननथानम ने ट्वीट कर लिखा, “‘जो लोग मेरी देशभक्ति पर सवाल खड़ा कर रहे हैं, मैं उन्हें बताना चाहता हूं कि बीते 40 सालों से मैं सार्वजनिक जीवन जी रहा हूं और जनता के बीच सक्रियता के साथ काम कर रहा हूं। मेरे पिता एक सैनिक थे। इसलिए मैं देश के जवानों के बलिदान को समझता और उसकी कद्र करता हूं।’

उन्होंने ने रविवार को केरल के डीजीपी को पत्र लिखकर शिकायत की है। उन्होंने कहा कि कुछ शरारती तत्व सीआरपीएफ जवानों के अंतिम संस्कार में ली गई उनकी तस्वीर को एक ‘सेल्फी’ के तौर पर जारी कर रहे हैं। अपने पत्र में मंत्री ने कहा कि वह 16 फरवरी को वायनाड में वसंत कुमार के अंतिम संस्कार में शामिल हुये थे। उन्होंने कहा, “किसी ने ताबूत के नजदीक खड़ी मेरी तस्वीर ली थी, मेरे मीडिया सचिव ने यही तस्वीर मेरे फेसबुक पर लगा दी। तस्वीर को मेरे द्वारा सेल्फी लेने का आरोप लगाते हुये कुछ शरारती तत्वों ने सोशल मीडिया पर मेरे खिलाफ फर्जी खबरें फैला दी हैं।”

बता दें कि जम्मू-कश्मीर में सीआरपीएफ के काफिले पर गुरुवार को हुए आत्मघाती हमले में चार और जवानों की शुक्रवार को मौत होने के कारण घटना में शहीद होने वालों की कुल संख्या 49 हो गई। गुरुवार को पुलवामा में श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर सीआरपीएफ के काफिले में जिस बस पर विस्फोटकों से भरी गाड़ी ने टक्कर मारी थी, ये जवान उससे पीछे चल रहे वाहन पर सवार थे।

Tag In

Pulwama Attack • Terror attack • आतंकी हमला • जम्मू कश्मीर • बीजेपी • सीआरपीएफ हमला अल्फांसो काननथानम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *