panchkula

समझौता एक्सप्रेस मामले में फैसला 14 मार्च तक सुरक्षित

न्यूज़ गैलरी,

ले पंगा न्यूज़ डेस्क, देवेन्द्र कुमार। देश में लोकसभा चुनावों की चर्चा को दौर जारी है, इसी बीच हरियाणा के पंचकूला की स्पेशल एनआईए कोर्ट ने सोमवार समझौता ब्लास्ट केस मामले में अपना फैसला सुरक्षित रखा है। कोर्ट को यह फैसला सोमवार को सुनाना था लेकिन कोर्ट ने इसे 14 मार्च तक टाल दिया है। इस केस में फाइनल बहस पूरी हो चुकी है और कोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया। सुनवाई के लिए सोमवार को मामले के आरोपी असीमानंद, कमल चौहान, लोकेश शर्मा और राजिंदर चौधरी पूंचकूला कोर्ट में पहुंच गए हैं। कोर्ट के बाहर आरोपियों के समर्थकों ने भारत माता की जय के नारे लगाए।

इससे पहले बुधवार को हुई थी मामले की सुनवाई

बीते बुधवार को हुई पिछली सुनवाई में एनआईए की स्पेशल कोर्ट में बचाव पक्ष के वकीलों की ओर से दी गई दलीलों का अभियोजन पक्ष के वकीलों ने जवाब दिया था जिसके बाद बहस पूरी हो गई और कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रख लिया था। इसके बाद उम्मीद थी कि अदालत 11 मार्च को अपना फैसला सुना सकती है। लेकिन आज भी कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा है।

यह था मामला

भारत-पाकिस्तान के बीच चलने वाली समझौता एक्सप्रेस में 18 फरवरी 2007 को बम धमाका हुआ था। यह ट्रेन सप्ताह में दो बार चलती है। दिल्ली से लाहौर जा रही इस ट्रेन हादसे में 68 लोगों की मौत हो गई थी। ब्लास्ट में 12 लोग घायल हो गए थे। धमाके में जान गंवाने वालों में अधिकतर पाकिस्तानी नागरिक थे। मारे जाने वाले 68 लोगों में 16 बच्चों समेत चार रेलवेकर्मी भी शामिल थे। इस ब्लास्ट के सभी आरोपियों के खिलाफ पंचकूला की स्पेशल एनआईए कोर्ट में केस चल रहा है। ये ब्लास्ट हरियाणा के पानीपत जिले में चांदनी बाग थाने के अंतर्गत सिवाह गांव के दीवाना स्टेशन के नजदीक हुआ था।

Tag In

#nia hariyana loksabha-2019

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *