सुषमा ने मोदी का जताया आभार तो लोगों का छलका दर्द, बोले तुस्सी ना जाओ

राजनीति,

ले पंगा न्यूज। देवेन्द्र कुमार। लोकतंत्र की परिपाटी के अनुसार इस बार भी लोकसभा के चुनाव हुए। परिणाम आए। मोदी सरकार को जनता ने जनादेश दिया। मोदी ने एक बार फिर से प्रधानमंत्री पद की शपथ ली। साथ ही मोदी सरकार के कई अन्य मंत्रियों ने भी शपथ ली। लेकिन पिछली मोदी सरकार में विदेश मंत्री रही सुषमा स्वराज शपथ ग्रहण समारोह में शामिल तो रही लेकिन इस बार की सरकार में उनका योगदान नहीं होगा। पिछली बार की सरकार में विदेश मंत्री रही सुषमा स्वराज ने मोदी को धन्यवाद देते हुए ईश्वर से प्रार्थना की है कि हमारी सरकार बहुत यशस्विता से चले। उन्होंने मोदी को ट्वीटर के जरिए धन्यवाद दिया है। उनके ट्वीट करने के बाद उनके समर्थकों ने अपनी प्रतिक्रिया देनी शुरू कर दी। प्रतिक्रिया में लोगों का दर्द साफ झलक रहा है। वो सुषमा से कह रहे हैं कि आप एक बार फिर सोचें। लोगों ने उनके विदेश मंत्री के कार्यकाल के कामों की सराहना की है। एक समर्थक ने तो यह तक लिख दिया कि तुस्सी ना जाओ।

शपथ ग्रहण समारोह के बाद किया ट्वीट

सुषमा स्वराज ने शपथ ग्रहण समारोह के बाद ट्वीट कर लिखा कि, ‘प्रधान मंत्री जी – आपने 5 वर्षों तक मुझे विदेश मंत्री के तौर पर देशवासियों और प्रवासी भारतीयों की सेवा करने का मौका दिया और पूरे कार्यकाल में व्यक्तिगत तौर पर भी बहुत सम्मान दिया। मैं आपके प्रति बहुत आभारी हूँ। हमारी सरकार बहुत यशस्विता से चले, प्रभु से मेरी यही प्रार्थना है।’

मोदी 2.0 से सुषमा की विदाई के बाद लोग भावुक हो गए। एक यूजर ने ट्वीट किया कि हम आपको याद करेंगे मैम। आप बेहतरीन विदेश मंत्री थी। एक अन्य यूजर ने ट्वीट किया सुषमा स्वराज के लिए भारत की प्रतिक्रिया ‘तुस्सी ना जाओ’ वाली है। एक ओर यूजर ने अपनी प्रतिक्रिया में लिखा कि आप ने ना केवल लोगों का ईमानदारी से काम किया बल्कि लोगों का दिल भी जीता आप का मंत्री मंडल मे शामिल ना होना हम जैसे आपके लाखो प्रशंसको को अच्छा नहीं लगा सभी दुखी हैं। कृप्या अपने निर्णय पर पुनः विचार करें।

स्वास्थ्य ठीक नहीं होने कारण नहीं लड़ा चुनाव

सुषमा स्वराज ने पिछले साल 20 नवंबर को 2019 में लोकसभा चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया था उन्होंने स्वास्थ्य कारणों का हवाला दिया था। सुषमा मध्यप्रदेश के विदिशा से सांसद थीं। सुषमा ने इंदौर में एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान इस बात की घोषणा की थी। सुषमा का पिछले कई महीनों से स्वास्थ्य ठीक नहीं चल रहा है।

2016 में हुआ किडनी ट्रांसप्लांट

बता दें कि 2016 में दिल्ली स्थिल एम्स में सुषमा का किडनी ट्रांसप्लांट हुआ था। विदेश मंत्री के रूप में सुषमा स्वराज काफी सक्रिय रहती थी। न केवल देश में बल्कि सुषमा के प्रशंसक विदेश में भी प्रवासी भारतीय के रूप में भी हैं। सुषमा विदेशों में फंसे भारतीय लोगों की मदद के साथ इलाज के लिए पाकिस्तानी नागरिकों की सहायता के लिए भी आगे रहती थीं। विदेशों में फंसे भारतीय लोग जब भी मदद की गुहार लगाते सुषमा स्वराज की तरफ से मंत्रालय के अधिकारियों को ऐसे लोगों की मदद के लिए तुंरत निर्देश दिए जाते थे।

Tag In

#cabinetminister #PMMODI #sushmaswaraj #sushmaswarajtwitter twitter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *