विराट की कप्तानी में टीम इंडिया ने जीते लगातार 7 टेस्ट मैच, इन दो दिग्गज कप्तानों के रिकॉर्ड को किया धराशायी!

स्पोर्ट्स,

ले पंगा न्यूज डेस्क, धीरज सैन। विराट बिग्रेड ने ऐतिहासिक पिंक बॉल टेस्ट मैच में बांग्लादेश को तीसरे दिन ही पारी और 46 रनों से रौंद कर दो टेस्ट मैचों की सीरीज में मेहमान टीम बांग्लादेश का 2-0 से सफाया कर दिया। इसी के साथ भारतीय टीम ने आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप टेबल में टॉप पर अपनी पकड़ और भी मजबूत बना ली है। भारतीय टीम आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप की अंकतालिका में टॉप पर बनी हुई है।

गौरतलब है कि भारतीय टीम ने बांग्लादेश से टेस्ट सीरीज जीतने से पहले वेस्टइंडीज को 2-0 से, साउथ अफ्रीका को 3-0 से हराकर लगातार सात मैच जीतने में सफल रही। इसी के साथ ही भारत ने घरेलू मैदान में लगातार 12वीं टेस्ट सीरीज जीत ली है। बांग्लादेश के खिलाफ टेस्ट सीरीज में टीम के बल्लेबाजों और गेंदबाजों ने अपना अविश्वसनीय प्रदर्शन किया। इसी सीरीज में टीम के कई बल्लेबाजों और गेंदबाजों ने अपने नाम कई शानदार रिकॉर्ड दर्ज किए।

भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली के लिए ये सीरीज बहुत खास रही। विराट कोहली ने इस टेस्ट सीरीज में टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी के एक खास रिकॉर्ड को धराशायी कर डाला। विराट कोहली भारत के पहले कप्तान हो गए है जिन्होंने लगातार सात टेस्ट मैच जीते है। विराट से पहले धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया ने लगातार छह टेस्ट मैच जीते थे। साथ ही विराट कोहली दुनिया के टॉप 5 सफल कप्तानों की श्रेणी में शामिल हो गए है। विराट की कप्तानी में टीम इंडिया ने 53 टेस्ट मैचों में से 33 में जीत हासिल की है। विराट ने इसके साथ इस मामलें कंगारू टीम के पूर्व कप्तान एलेन बॉर्डर को पीछे छोड़ डाला।

Tag In

#dhoni #indiavsbangladesh #pinkballTest #viratkohli #WorldTestChampionship

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *