47वें प्रधान न्यायाधीश के पद की शपथ ली जस्टिस शरद अरविंद बोबडे नेे…!

न्यूज़ गैलरी,

ले पंगा न्यूज डेस्क, धीरज सैन। जस्टिस रजंन गोगोई के सेवानिवृत होने के बाद आज यानि की सोमवार को जस्टिस शरद अरविंद बोबडे ने देश के 47वें प्रधान न्यायाधीश के रूप में शपथ ग्रहण कर ली है। नवनियुक्त जस्टिस बोबडे को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शपथ दिलाई। शपथ ग्रहण समारोह के इस खास मौके पर उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू, पीएम नरेंद्र मोदी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह सहित कई गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।

गौरतलब है कि देश के प्रधान न्यायाधीश के तौर पर ​नवनियुक्त जस्टिस बोबडे का कार्यकाल करीब 17 महीने का होगा और वह 23 अप्रैल 2021 को सेवानिवृत्त होंगे। बता दें कि जस्टिस बोबडे ने कई ऐतिहासिक फैसलों में अहम भूमिका निभाई और हाल ही में कई वर्षों पुराने अयोध्या के विवादित स्थल पर राम मंदिर बनाने का रास्ता साफ करने के फैसला करने वाली पांच जजों की पीठ में भी वह शामिल रहे हैं।

बता दें कि देश के 47वें नवनियुक्त प्रधान न्यायाधीश बोबड़े ने 1978 में नागपुर विश्वविद्यालय से एलएलबी की डिग्री प्राप्त की है। उसके बाद उन्होंने 21 साल तक बॉम्बे हाईकोर्ट की नागपुर बेंच में प्रैक्टिस की और सुप्रीम कोर्ट में भी पेश हुए। उन्हें 1998 में वरिष्ठ वकील के रूप में नामित किया गया और बाद में मार्च 2000 में बॉम्बे उच्च न्यायालय के अतिरिक्त न्यायाधीश के रूप में पदोन्नत किया गया था।

इसी बीच बता दें कि देश के प्रधान न्यायाधीश बोबडे से पहले मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगाई ने 2018 में मुख्य न्यायाधीश के पद की शपथ ली थी। उनका कार्यकाल 13 महीने 15 दिन का रहा। पूर्व न्यायाधीश गोगाई ने अपने कार्यकाल में कई अहम फैसलों पर निर्णय दिए है। जिसमें उन्होंने अयोध्या विवाद पर ऐतिहासिक फैसला दिया, राफेल मामले में पुनर्विचार याचिका खारिज सहित कई अहम मामलों पर निर्णय सुनाया है।

Tag In

#47thchiefjustice #bobde #chiefjustic #chiefjusticbobde #cjigogoi #justicesharadarvindbobde #LATESTHINDINEWS #lepannganews #ranjangogoi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *