आर.के स्टूडियो के बाद अब 60 साल पुराने इस स्टूडियो को रौंद कर किया जाएगा निर्माण

फिल्म,

ले पंगा न्यूज़, मोनिका सोनी। मुंबई में 71 साल पुराने आर.के स्टूडियो के बिकने के बाद अब 60 साल पुराना कमाल अमरोही स्टूडियो जिसे कमालिस्तान स्टूडियो के नाम से भी जाना जाता है, कमर्शियल बिल्डिंग में तब्दील करने के लिए बेच दिया गया है।

ख़बरों के मुताबिक, कमालिस्तान स्टूडियो की 15 एकड़ ज़मीन को डीबी रियलिटी और बेंगलुरु स्थित RMZ कॉर्पोरेशन ने मिलकर ख़रीदा है, जहाँ यह कम्पनियां मिलकर देश का सबसे बड़ा कॉर्पोरेट ऑफिस का निर्माण करना चाहती है जिसका नाम एस्पायर रखने का तय किया गया है। देश का बड़ा कॉर्पोरेट ऑफिस निर्माण का फैसला मुंबई के लिए एक ख़ास अवसर तो है लेकिन फिल्म जगत का एक बेहतरीन स्टूडियो, कमालिस्तान स्टूडियो जो की फ़िल्मी दुनिया के बहुत से फिल्मकार के लिए वरदान साबित हुआ है बहुत जल्द नए निर्माण के नीचे रौंद दिया जाएगा।

बता दें कि, कमालिस्तान स्टूडियो की स्थापना कमाल अमरोही ने 1958 में की थी जहाँ बॉलीवुड की कई सारी क्लासिक फिल्म की शूटिंग पूरी की गयी है, जिसमें कालिया, अमर अकबर एंथनी जैसी फिल्में शामिल है।

कमाल अमरोही खुद एक फिल्मकार थे जिन्होंने हिंदी सिनेमा की 4 बड़ी फिल्में पाकीज़ा, महल, रज़िया-सुल्तान, बॉम्बे टॉकीज़ का निर्देशन किया है। कमाल अमरोही का जन्म अमरोह, उत्तरप्रदेश में 17-जनवरी-1918 में हुआ था। कमाल अमरोही ने अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत जेलर, पुकार,भरोसा जैसी फिल्मों में काम कर की थी।

Tag In

#commercial #IT Park #kamal_amrohis #kamalistan_studio #R K Studios #कमाल_अमरोही #कमालिस्तान_स्टूडियो #हिंदी_सिनेमा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *